Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

नए रंग और रूप के साथ, फिर लौटेगा 1000 का नोट

अब नया एक हजार का नोट कुछ नए सिक्यूरिटी फीचर के साथ बाजार में आएगा।

नए रंग और रूप के साथ, फिर लौटेगा 1000 का नोट
नई दिल्ली. 500 व एक हजार के पुराने नोटों को चलन में बंद करने के बाद आम आदमी को राहत देने के लिए सरकार पिछले डेढ़ दिनों से लागतार नई घोषणाएं कर रही है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि जिन लोगों के पास ज्यादा अघोषित संपत्ति है उन्हें टैक्स लॉ के तहत कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि नई व्यवस्था से लोग घबराए नहीं। वीकेंड पर भी बैंक खुले रहेंगे।
वहीं इस क्रम में आज आर्थिक मामलों के सचिव शक्तिकांत दास ने कहा कि बाजार में अगले कुछ महीनों में एक हजार रुपए के नए नोट नए रंग और नए डिजाइन के साथ आ जाएंगे। उन्होंने कहा कि पुराने एक हजार के नोट को बंद करने का निर्णय काला धन के प्रवाह को रोकने के लिए लिया गया था और अब नया एक हजार का नोट कुछ नए सिक्यूरिटी फीचर के साथ बाजार में आएगा।
दास ने कहा कि नया 2,000 रुपए का नोट जारी करने पर रिजर्व बैंक की करीब से निगाह रहेगी। शक्तिकांता दास ने यह भी कहा है कि समय-समय पर नये सिक्यूरिटी फीचर व नए डिजाइन के नोट जारी किए जाएंगे।
वित्त मंत्री ने कहा कि हम यह सुनिश्चित करने की कोशिश कर रहे हैं कि लोगों को जरूरी करेंसी उपलब्ध हो जाए, इसलिए जल्दबाजी करने कोई जरूरत नहीं है। जो थोड़ी राशि जमा कर रहे हैं, उन्हें परेशान होने की जरूरत। सीमा के तहत रकम जमा करने पर कोई पूछताछ नहीं होगी। बड़ी राशि जमा कराने वालों से पूछताछ हो सकती है।
जेटली ने कहा कि नई व्यवस्था से थोड़ी परेशानी होगी, लेकिन हमें लॉन्ग टर्म फायदे के लिए तैयार रहना चाहिए। वित्तमंत्री ने कहा कि 500 और 1,000 रुपए के नोट बंद होने से लोगों की खर्च करने की आदत में बदलाव आएगा। सरकार की यह घोषणा आम आदमी को बड़ा राहत देने वाला फैसला है, जो 500 के बाद सीधे 2000 के नोटों के चलन को लेकर परेशान थे। सरकार के इस फैसले से आम लोगों को विनिमय में आसानी होगी।
जेटली ने यह भी कहा है कि जरूरत के मुताबिक बैंकों में मुद्रा जल्द से जल्द उपलब्ध कराने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पुराने नोट के बदले नए नोट उपलब्ध कराने के लिए बैंक शनिवार व रविवार को भी खुले रहेंगे।
आर्थिक संपादकों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए वित्तमंत्री जेटली ने यह बातें कहीं हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Share it
Top