Logo
election banner
Priyanka Gandhi 2024 Lok Sabha Election: दमन और दीव के कांग्रेस अध्यक्ष केतन पटेल ने रविवार को कहा कि पार्टी नेता प्रियंका गांधी केंद्र शासित प्रदेश से संभावित उम्मीदवार हो सकती हैं। पार्टी के आलाकमान ने उन्हें इसके लिए डेटा इकट्ठा करने के लिए कहा है।

Priyanka Gandhi 2024 Lok Sabha Election: लोकसभा चुनाव अप्रैल-मई में प्रस्तावित हैं। भाजपा ने पहली सूची जारी कर दी है। हालांकि सबकी निगाहें कांग्रेस नेता राहुल गांधी और उनकी बहन पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी पर टिकी हैं। उम्मीद है कि इस बार प्रियंका गांधी लोकसभा चुनाव में उतर सकती हैं। अटकलें लगाई जा रही थीं कि रायबरेली सीट से उन्हें लड़ाया जा सकता है। रायबरेली कांग्रेस का गढ़ है। यहीं से उनकी मां सोनिया गांधी सांसद हैं। हालांकि इस बार वह चुनाव नहीं लड़ रही हैं। उन्हें राज्यसभा भेजा गया है। 

इस बीच दमन और दीव के कांग्रेस अध्यक्ष केतन पटेल ने रविवार को कहा कि पार्टी नेता प्रियंका गांधी केंद्र शासित प्रदेश से संभावित उम्मीदवार हो सकती हैं। पार्टी के आलाकमान ने उन्हें इसके लिए डेटा इकट्ठा करने के लिए कहा है। उन्होंने कहा कि प्रियंका जी के आने से यहां कांग्रेस मजबूत होगी। दक्षिण गुजरात और सौराष्ट्र को भी फायदा मिलेगा। 

पटेल ने कहा कि डेटा संग्रह में ग्राउंड रिपोर्ट, मतदाताओं का रुझान और पिछले बार के चुनाव के प्रदर्शन को देखा जाएगा।

भाजपा ने उतारे 195 उम्मीदवार
भाजपा ने लोकसभा चुनाव के लिए 195 उम्मीदवारों की अपनी पहली सूची में पीएम मोदी को वाराणसी निर्वाचन क्षेत्र से मैदान में उतारा है। इस सीट का पीएम मोदी 2014 से प्रतिनिधित्व कर रहे हैं। घोषणा के बाद राज्य कांग्रेस प्रमुख अजय राय ने कहा कि वाराणसी एक पारंपरिक कांग्रेस सीट है और विश्वास जताया कि निर्वाचन क्षेत्र के लोग सबसे पुरानी पार्टी के साथ हैं।

भाजपा ने अपने उम्मीदवारों की पहली सूची में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री किरेन रिजिजू, राजीव चंद्रशेखर समेत कई दिग्गज नेताओं के नाम का ऐलान किया गया है। पहली सूची में 195 उम्मीदवारों के नामों का ऐलान हुआ है। इनमें 34 केंद्रीय और राज्य मंत्री हैं।  जबकि दो पूर्व मुख्यमंत्रियों को भी टिकट दिया गया है। 

2019 में कांग्रेस 52 सीटों पर सिमटी
2019 के लोकसभा चुनावों में भाजपा के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक (एनडीए) ने कुल 303 सीटें जीतीं, और कांग्रेस  52 सीटों पर सिमट गई थी। 

5379487