Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Rail Yatri ध्यान दें! ट्रेनों के समय में हुआ आंशिक परिवर्तन, अब कोई दो मिनट पहले तो कोई दो मिनट बाद आएगी

एक अक्टूबर से रेलवे ने अनेक ट्रेनों के समय में बदलाव किया है। मगर यहां के रेलवे स्टेशन से गुजरने वाली ट्रेनों के समय में कोई खास बदलाव नहीं हुआ है। जिसके चलते यहां पर यात्रियों को समय परिवर्तन के बारे में ज्यादा परेशानी नहीं होगी। रेलवे स्टेशन के स्टेशन अधीक्षक अशोक कुमार ने बताया कि महेंद्रगढ़ रेलवे स्टेशन से होकर 30 ट्रेनें गुजरती हैं।

Rail Yatri ध्यान दें! ट्रेनों के समय में हुआ आंशिक परिवर्तन, अब कोई दो मिनट पहले तो कोई दो मिनट बाद आएगी
X

महेंद्रगढ़ रेलवे स्टेशन।

महेंद्रगढ़ : रेलवे ने एक अक्टूबर से ट्रेनों के समय में परिवर्तन किया गया है। हालांकि देश में अनेक ट्रेनों में समय में काफी बदलाव हुआ है। अनेक गाड़ियों में उनके स्टेशनों पर आगमन व प्रस्थान के समय में आंशिक परिवर्तन किया जा रहा है । मगर महेंद्रगढ़ की बात की जाए तो ट्रेनों के समय में महज एक या दो मिनट का ही अंतर किया गया है।

यहां के रेलवे स्टेशन से होकर फिलहाल तीस ट्रेनें अप व डाउन करती हैं। इनमें से 28 ट्रेनें स्टेशन पर रुकती हैं, जबकि दो ट्रेनें 22481-82 पहले स्टेशन पर रुकती थी, मगर अब कोरोना के बाद से स्टेशन पर नहीं रुकती। वहीं एक अक्टूबर से रेलवे ने अनेक ट्रेनों के समय में बदलाव किया है। मगर यहां के रेलवे स्टेशन से गुजरने वाली ट्रेनों के समय में कोई खास बदलाव नहीं हुआ है। जिसके चलते यहां पर यात्रियों को समय परिवर्तन के बारे में ज्यादा परेशानी नहीं होगी। रेलवे स्टेशन के स्टेशन अधीक्षक अशोक कुमार ने बताया कि महेंद्रगढ़ रेलवे स्टेशन से होकर 30 ट्रेनें गुजरती हैं, इन ट्रेनों के समय में अभी कोई खास बदलाव नहीं किया गया है।

अभी नहीं हटा स्पेशल शब्द

स्टेशन अधीक्षक अशोक कुमार ने बताया कि अभी ट्रेनों के पहले लगा स्पेशल शब्द नहीं हटा है। इस प्रकार की कोई सूचना नहीं है, जिन ट्रेनों की टिकट आनलाइन मिलती थी, उनकी स्टेशन पर ही टिकट मिल रही है। उन्होंने बताया कि स्पेशल शब्द हटने संबंधी भी उनके पास कोई सूचना नहीं आई है।

बदलना चाहिए ट्रेनों का टाइम, कई गाडि़यां हैं एक साथ

इस बारे में समाजसेवी रामनिवास पाटौदा ने बताया कि ट्रेनों के समय में परिवर्तन होना चाहिए। उन्होंने कहा कि कई ट्रेनें ऐसी हैं, जो रात को एक घंटे के अंदर तीन-तीन दिल्ली की ओर जाती हैं। वहीं कई ट्रेनें ऐसी हैं, जो लगातार आगे-पीछे चलती हैं। उन्होंने बताया कि यदि ट्रेनों के समय में परिवर्तन कर उनके बीच कम से कम एक घंटे का अंतर किया जाए तो सवारियों को भी फायदा होगा। वहीं रेलवे को भी काफी फायदा होगा। उन्होंने कहा कि वे इस बारे में कई बार उच्चाधिकारियों को भी पत्राचार कर चुके हैं तथा सांसद व मंत्री को भी लिख चुके हैं, मगर इस ओर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

Next Story