Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

लॉकडाउन के नियम राशन डिपो पर नहीं होंगे लागू, कार्ड धारकों को मिलेगा अनाज

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अधिकारियों ने यह स्पष्ट कर दिया है कि डिपो धारक मास्क 2 गज की दूरी समेत कोविड-19 की पालना करते हुए राशन वितरण कर सकते हैं।

To get ration in corona crisis beneficiary will not put thumb on posh machine Know new system of Bihar government
X

प्रतीकात्मक तस्वीर

Haribhoomi News : हरियाण सरकार ने कोरोना की चेन तोड़ने के लिए प्रदेश भर में लॉकडाउन (Lockdown) लगाया है। लेकिन इस लॉकडाउन में राशन डिपो ओपन रहेंगे। वह जरूरतमंद लोगों को कोविड-19 पालना करते हुए रूटीन की तरह राशन वितरित (Ration distributed) करते रहेंगे। लॉकडाउन में उन पर कोई पाबंदी नहीं है। इस बार केंद्र सरकार की तरफ से प्रति सदस्य के हिसाब से 5 किलो गेहूं फ्री मिलेगा। जबकि राज्य सरकार की तरफ से 3 किलो आटा और 2 किलोग्राम बाजरा मिलेगा।

खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अधिकारियों ने यह स्पष्ट कर दिया है कि डिपो धारक मास्क 2 गज की दूरी समेत कोविड-19 की पालना करते हुए राशन वितरण कर सकते हैं। सांपला ब्लॉक में करीब 11000 राशन लाभार्थी हैं। इस बार केंद्र सरकार की तरफ से कोरोना काल में गेहूं निशुल्क मिलेगा। राशन डिपो होल्डर के माध्यम से मई में बांटे जाने वाला राशन केंद्रों पर पहुंचना शुरू हो गया है। जो मई महीने में उपभोक्ताओं को राशन में 2 किलो बाजरा 3 किलो गेहूं का आटा और केंद्र सरकार की तरफ से 5 किलो गेहूं प्रति सदस्य के हिसाब से दिया जाएगा। इसके अलावा 2 लीटर सरसों का तेल 1 किलोग्राम चीनी मिलेगी।

प्रशासन की पैनी नजर

राशन डिपो होल्डर अपने डिपो पर लोगों की भीड़ ने होने दे। लोगों को सूचना देकर रखें कि अलग-अलग टाइम में आए। डिपो से बाहर उनको 2 गज की दूरी में खड़ा रखें और सेनीटाइजर की व्यवस्था बनाए रखें ।राशन वितरण होना जरूरी है। इसलिए राशन डिपो बंद नहीं कर सकते । सभी को नियमो की पालना करते हुए वितरण करवाएं। लॉकडाउन में भी राशन डिपो पर राशन वितरण किया जाएगा। केंद्र सरकार की तरफ से 5 किलो गेहूं के अलावा 3 किलो आटा और 2 किलो बाजरा के हिसाब से भी राशन वितरण होगा। इसके अलावा सरसों का तेल, चीनी भी बाटी जाएगी। राशन वितरण में गड़बड़ करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा। - पवन कुमार धनखड़, इंस्पेक्टर

Next Story