Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

एसीपी के रीडर ने की थी आत्महत्या, एएसआई सहित चार पर केस

गांव माजरा श्योजरा निवासी पंकज कुमार पटौदी एसीसी के रीडर थे तथा तीन फरवरी को उन्होंने गांव में स्थित अपने मकान में फंदा लगा कर आत्महत्या कर ली थी।

एसीपी के रीडर ने की थी आत्महत्या, एएसआई सहित चार पर केस
X

हरिभूमि न्यूज. रेवाड़ी

पटौदी एसीपी के रीडर गांव माजरा श्योराज निवासी हैडकांस्टेबल पंकज कुमार की मौत के मामले में मॉडल टाउन थाना पुलिस ने मृतक की पत्नी, ससुर व पटौदी थाना में तैनात एक एएसआई सहित चार के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने की प्राथमिकी दर्ज की है। मृतक पंकज की डायरी से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है, जिसके बाद उनके भाई ने पुलिस को शिकायत दी।

गांव माजरा श्योजरा निवासी पंकज कुमार पटौदी एसीसी के रीडर थे तथा तीन फरवरी को उन्होंने गांव में स्थित अपने मकान में फंदा लगा कर आत्महत्या कर ली थी। उस समय पुलिस ने सामान्य कार्रवाई करते हुए पोस्टमार्टम के बाद शव स्वजन को सौंप दिया था। आठ फरवरी की शाम को स्वजन पंकज के कमरे की सफाई कर रहे थे। इसी दौराप ब्रिफकेस में रखी डायरी में एक सुसाइड नोट लिखा हुआ मिला, जिसे पुलिस को सौंप दिया गया। मृतक के भाई राजकुमार ने शिकायत में कहा है कि पिछले दो साल से पंकज की पत्नी लक्ष्मी उर्फ आशा व ससुर भजन सिंह का व्यवहार अमानवीय हो गया था। दोनों पंकज के साथ दुर्व्यवहार करते थे।

पंकज ने स्वजन को कई बार बताया था कि उसका वैवाहिक जीवन खराब हो गया है तथा जीना दुर्भर किया हुआ है। घर के माहौल को ठीक करने के लिए पंकज फरवरी 2020 से अपनी पत्नी व दोनों बच्चों के साथ अर्जुन नगर में किराये पर रहने लगे थे। इसके बाद भी आरोपितों के व्यवहार में कोई बदलाव नहीं आया। पंकज ने लक्ष्मी, भजन सिंह, राजीव व पटौदी थाना के एएसआइ अशोक कुमार द्वारा परेशान करने के बारे में दो फरवरी को अपने चाचा कृष्ण लाल को भी बताया था। पुलिस ने चारों आरोपितों के खिलाफ आत्महत्या के लिए मजबूर करने के आरोप में केस दर्ज किया है।

Next Story