Logo
election banner
Health Tips: आजकल की बिगड़ती लाइफस्टाइल और खान-पान के कारण लोगों में थायराइड की समस्या बहुत आम हो गई है। ऐसे थायराइड के मरीजों को अपने खान-पान को लेकर बहुत सावधान रहना पड़ता है। आज हम आपको उन चीजों के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं जिनसे थायराइड के मरीजों को परहेज करना चाहिए।

Health Tips: आजकल की बिगड़ती लाइफस्टाइल और खान-पान के कारण लोगों में थायराइड की समस्या बहुत आम हो गई है। चाहे पुरुष हो या महिला हर कोई इस बीमारी से परेशान है। वहीं थायराइड दो प्रकार का होता है। हाइपरथायराइड और हाइपोथायराइड। लेकिन ये दोनों ही स्थितियां आपके लिए काफी गंभीर हो सकती हैं। अगर आप थायराइड के मरीज हैं और इसे कंट्रोल करना चाहते हैं। तो ऐसे में जीवनशैली में थोड़ा बदलाव जरूर करें और इन चीजों का सेवन करने में बेहद सावधानी बरतें। तो आइए जानते है कि किन चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए। 

सोया या सोया उत्पाद
थायराइड के मरीजों को सोया या सोया उत्पाद खाने से बचना चाहिए। इसमें गोइट्रोजन्स होते हैं जो आयोडीन अवशोषण को रोक सकते हैं। सोया में आइसोफ्लेवोन्स होता है। यह शरीर की थायराइड हार्मोन का उपयोग करने की क्षमता में हस्तक्षेप कर सकता है।

क्रूसिफेरस सब्जियां
थायराइड के रोगियों को केल, ब्रोकोली, फूलगोभी, पत्तागोभी और पालक का सेवन नहीं करना चाहिए। इसमें गोइट्रोजेन भी होता है जो थायरॉयड ग्रंथि के कामकाज को रोकता है।

शुगर
थायराइड के मरीजों को अधिक चीनी के सेवन से बचना चाहिए। इससे शरीर में सूजन आ जाती है और थायराइड हार्मोन ठीक से रिलीज नहीं हो पाते हैं। साथ ही मेटाबॉलिज्म भी धीमा हो जाता है जो थायराइड के मरीजों के लिए चिंता का विषय है।

दूध
दूध से परहेज करना चाहिए, हालांकि दूध कैल्शियम से भरपूर होता है। लेकिन यह थायराइड की दवा के प्रभाव को कम कर सकता है। अगर आप दूध पीते हैं तो भी दवा और दूध के बीच चार घंटे का अंतर होना चाहिए।

जंक फूड
प्रोसेस्ड या जंक फूड का भी सेवन नहीं करना चाहिए। इनमें सोडियम की मात्रा अधिक होती है, जो आपको नुकसान पहुंचा सकता है। वहीं, कॉफी में मौजूद कैफीन शरीर में थायरोक्सिन हार्मोन के अवशोषण में बाधा डालता है, जिससे समस्या और बढ़ सकती है।

jindal steel Ad
5379487