Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Jind By Poll Results: जींद में भाजपा की जीत, कांग्रेस के सुरजेवाला रहे तीसरे नंबर पर

भाजपा के उम्मीदवार कृष्ण मिड्ढा ने गुरुवार को हरियाणा की जींद विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में कड़े मुकाबले में अपने निकटतम उम्मीदवार दिग्विजय सिंह चौटाला को करीब 13 हजार मतों के अंतर से हरा दिया।

Jind By Poll Results: जींद में भाजपा की जीत, कांग्रेस के सुरजेवाला रहे तीसरे नंबर पर

भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार कृष्ण मिड्ढा ने गुरुवार को हरियाणा की जींद विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव में कड़े मुकाबले में अपने निकटतम उम्मीदवार दिग्विजय सिंह चौटाला को करीब 13 हजार मतों के अंतर से हरा दिया। दिग्विजय सिंह चौटाला जननायक जनता पार्टी (JJP) की तरफ से चुनाव लड़ रहे थे।

भारतीय राष्ट्रीय लोक दल (INLD) के विभाजन के बाद जजपा बनी थी। इस उपचुनाव में इनेलो को भी कड़ा झटका लगा है। जींद के उपायुक्त और निर्वाचन अधिकारी अमित खत्री ने कहा कि कृष्ण मिड्ढा 12,935 मतों के अंतर से जीते।

जननायक जनता पार्टी (JJP) ने पूर्व सांसद अजय सिंह चौटाला के बेटे और हिसार से सांसद दुष्यंत चौटाला के छोटे भाई 27 वर्षीय दिग्विजय सिंह चौटाला को मैदान में उतारा था। इन तीनों को इनेलो प्रमुख ओम प्रकाश चौटाला ने निष्कासित किया था। इसके बाद इन्होंने नयी राजनीतिक पार्टी बनाई थी।

कांग्रेस की तरफ के चुनाव में खड़े हुए कैथल से मौजूदा विधायक रणदीप सिंह सुरजेवाला तीसरे स्थान पर रहे। नतीजों से पहले चंडीगढ़ में संवाददाताओं से बात करते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने अपनी पार्टी की जीत की भविष्यवाणी करते हुए कहा कि 'भाजपा की पारदर्शी नीतियों और राज्य के चौमुखी विकास' के पक्ष में लोग अपना फैसला देंगे।

कृष्ण मिड्ढा (48) एक बीएएमएस चिकित्सक हैं जिनके पिता के निधन की वजह से यहां उपचुनाव कराने की जरूरत पड़ी। चौथे दौर की मतगणना के बाद भाजपा की जीत के संभावना बनने लगी थी जब कृष्ण मिड्ढा ने 10 हजार से ज्यादा मतों की बढ़त ले ली थी।

कृष्ण मिड्ढा के पिता हरि चंद मिद्धा ने दो बार जींद विधानसभा क्षेत्र का इनेलो के टिकट पर प्रतिनिधित्व किया था। कृष्ण मिद्धा ने हालांकि हाल में भाजपा का दामन थाम लिया था। कांग्रेस उम्मीदवार सुरजेवाला तीसरे स्थान पर रहे।

इनेलो को इस उपचुनाव में बड़ा झटका लगा जिसके उम्मीदवार उमेद्य सिंह रेधु पांचवें स्थान पर रहे। हाल में बनी लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी (एलएसपी) उम्मीदवार चौथे स्थान पर रहा।

मतगणना के सातवें दौर के दौरान लोकतंत्र सुरक्षा पार्टी (एलएसपी) और जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के मतदान एजेंटों ने हालांकि दो इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों (ईवीएम) में सीरियल नम्बरों में मेल नहीं होने का आरोप लगाया जिससे हंगामा शुरू हो गया।

इसके बाद पुलिस को हलका बल प्रयोग करना पड़ा। जींद के उपायुक्त सह निर्वाचन अधिकारी खत्री ने ईवीएम को लेकर लगाये गये आरोपों को खारिज किया है।

Next Story
Share it
Top