Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

छेड़छाड़ का केस वापस न लेने पर डीएसपी ने दी जान से मारने की धमकी

कई माह पूर्व आरोेपित डीएसपी विजिलेंस कार्यालय में रोहतक में कार्यरत थे। उस समय उनके विभाग की एक महिला पुलिसकर्मी ने छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए अर्बन अस्टेट थाना में केस दर्ज कराया था।

11 साल के बच्चे के प्राइवेट पार्ट के साथ करते थे घिनौनी हरकत, ब्लैकमेल कर ऐंठे लाखो रुपयेहरियाणा पुलिस (फाइल फोटो)

विजिलेंस के डीएसपी ने शुक्रवार को विजिलेंस कार्यालय में पहुंच कर महिला सिपाही द्वारा छेड़छाड़ का केस वापस न लेने पर जान से मारने की धमकी दी। महिला की शिकायत पर पुलिस ने तत्परता से कार्रवाई करते हुए डीएसपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोेपित के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। जिसे कोर्ट में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेजा गया हैै।

मामले के अनुसार, कई माह पूर्व आरोेपित डीएसपी विजिलेंस कार्यालय में रोहतक में कार्यरत थे। उस समय उनके विभाग की एक महिला पुलिसकर्मी ने छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए अर्बन अस्टेट थाना में केस दर्ज कराया था। शिकायत में महिला ने आरोप लगाया था कि उसे बेवजह प्रताड़ित करने के लिए देर शाम तक ड्यूटी पर रखा जाता है।

उसके पास फोन कर गलत शब्दों का प्रयोग किया जाता है। अर्बन एस्टेट थाना पुलिस ने डीएसपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। इसके बाद विजिलेंस के आलाधिकारियों ने उसे यहां से बदलकर मुख्यालय में भेज दिया था। छेड़छाड़ का मामला जिला अदालत में चल रहा है।

अब पीड़िता ने पुलिस को दोबारा शिकायत दी है कि वह दिन के समय सोेनीपत रोड पर विजिलेंस कार्यालय में काम कर रही थी। इस दौरान आराेपित डीएसपी उसके पास आया और उस पर केस उठाने के लिए दबाव बनाया। इसके बाद वह वापस चला गया और शाम को फिर से उसके पास आया।

उसने फिर से केस न उठाने पर गोली मारने और हत्या करवा देने की धमकी दी। जिससे पीड़ित ने पुलिस के पास फोन कर दिया। सूचना मिलते ही अर्बन अस्टेट पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। आरोेपित को कोर्ट में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेजा गया है।

महिला सिपाही ने शिकायत दी है कि उसे गोली मारने की धमकी देकर केस वापिस लेने का दबाव बनाया गया हैै। डीएसपी ने दो बार विभाग में जाकर पीड़िता को धमकाया। शिकायत पर कार्रवाई करते हुए डीएसपी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे न्यायक हिरासत में भेजा गया है। बलवंत सिंह, एसएचओ अर्बन अस्टेट

Next Story
Top