Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जींद में सोशल मीडिया पर डाली कोरोना संक्रमित बताकर पोस्ट, दो मामले दर्ज

पांच लोगों को तबलीगी जमात से जोड़ किया वीडियाे वायरल, पांचों व्यक्तियों को होना पड़ा होम क्वारंटाइन, रिपोर्ट आई निगेटिव, दूसरे व्यक्ति को बताया एचआईवी व कोरोना वायरस संक्रमित

कांग्रेस महिला नेत्री ने दंबगईपुलिस (प्रतीकात्मक फोटो)

जींद। स्वस्थ लोगों को कोरोना संक्रमित बता तबलीगी जमात से जोड़ने, दूसरे व्यक्ति को कोरोना संक्रमित बता सोशल मीडिया पर वायरल करने पर जिला पुलिस ने अलग-अलग थानों में दो मामले अज्ञात लोगों के खिलाफ दर्ज किए हैं। पुलिस मामलों की जांच कर रही है। गांव हथो निवासी एक व्यक्ति ने सदर थाना नरवाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि गत 31 मार्च को उसके समेत चार लोगों को तबलीगी जमात से जोड़ते हुए कोरोना संक्रमित संभावित बताया गया। साथ ही उसे निजामुद्दीन मकरज से जोड़ा गया। जिसके चलते स्वास्थ्य विभाग ने उसे होम क्वारंटाइन कर दिया। वर्ष 2014 की पुरानी फोटो लेकर उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया गया। जबकि वह न तो वे तबलीगी जमात से जुड़े और न ही निजामुद्दीन मकरज गए थे। सोशल मीडिया पर वायरल किए जाने से उन्हें भारी परेशानी का सामना करना पड़ा।

उधर, गांव बूराडेहर निवासी एक व्यक्ति ने जुलाना थाना पुलिस को दी शिकायत में बताया कि गत सात अप्रैल को उसकी फेसबुक आईडी पर वीडियो वायरल हुआ। जिसमें उसे एचआईवी पॉजिटिव के साथ-साथ कोरोना वायरस संक्रमित बताया गया। जिसके चलते उसे परेशानी से गुजरना पड़ा। जबकि वह पूरी तरह स्वस्थ है। दोनों व्यक्तियों की शिकायत पर संबंधित थाना पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ झूठी अफवाह फैलाने तथा निषेधा उल्लंघन का मामला दर्ज किया है।

सदर थाना नरवाना प्रभारी महेंद्र सिंह ने बताया कि पांच लोगों को तबलीगी जमात से जोड़ कर संभावित संक्रमित बताकर सोशल मीडिया पर वीडियो डाला गया। जिसके चलते व्यक्ति समेत पांच लोगों को होम क्वारंटाइन होना पड़ा। जो वीडियो सोशल मीडिया पर डाली गई उस पर फोटो वर्ष 2014 का डाला गया था। जबकि वे लोग न तो तबलीगी जमात से जुडे थे और न ही निजामुद्दीन मकरज गए थे। फिलहाल अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

जुलाना थाना के जांच अधिकारी सुलतान सिंह ने बताया कि व्यक्ति को एचआईवी तथा कोरोना वायरस संक्रमित बता फेसबुक पर पोस्ट डाली गई थी। फिलहाल अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

Next Story
Top