Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Amitabh Bachchan Interview: अमिताभ ने फिल्म के सेट पर आमिर खान से की ये गुजारिश

बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन का जादू आज भी बरकरार है। वक्त गुजरने के साथ उनकी फैन फॉलोइंग में कोई कमी नहीं आई है, इसके बजाय उनके फैंस की संख्या बढ़ती ही जा रही है।

Amitabh Bachchan Interview: अमिताभ ने फिल्म के सेट पर आमिर खान से की ये गुजारिश

बॉलीवुड के शहंशाह अमिताभ बच्चन का जादू आज भी बरकरार है। वक्त गुजरने के साथ उनकी फैन फॉलोइंग में कोई कमी नहीं आई है, इसके बजाय उनके फैंस की संख्या बढ़ती ही जा रही है।

यंग जनरेशन भी अमिताभ बच्चन की एक्टिंग की, उनके अंदाज की कायल है। बिग बी के फैंस भी उन्हें बेइंतहा प्यार करते हैं। हर साल 11 अक्टूबर को बिग बी के बर्थ-डे को फैंस खूब धूमधाम से मनाते हैं।

हाल ही में फिल्म ‘ठग्स ऑफ हिंदुस्तान’ के प्रमोशन के दौरान अमिताभ बच्चन से बातचीत हुई। इस दौरान उन्होंने जिंदगी और जन्मदिन से जुड़ी ढेर सारी बातें साझा कीं।

अमित जी आपका जन्मदिन आने वाला है। आप अपनी जिंदगी के पछत्तर बसंत देख चुके हैं। कैसे देखते हैं, अपने अब तक के जीवन को?

जिंदगी इतनी तेजी से अपने कदम बढ़ा रही है कि पता ही नहीं चला कि कब हम तीस से चालीस और चालीस से पचास और फिर पछत्तर की उम्र तक पहुंच गए। आज जब हम मुड़कर पीछे देखते हैं तो ऐसा लगता है कि जिंदगी तो हमसे भी ज्यादा तेज भाग रही है। कब सुबह होती है और कब शाम, पता ही नहीं चलता। लेकिन अगर पॉजिटिव तरीके से सोचें तो यह अच्छा भी है। व्यस्तता और काम से हमारे भीतर फुर्ती बनी रहती है। दुख-दर्द, बीमारी के बारे में सोचने का वक्त ही नहीं मिलता यानी हजारों तकलीफों के बावजूद हम एक्टिव रहते हैं। जैसे अभी हम आपके सामने इंटरव्यू दे रहे हैं। फिल्मों की शूटिंग और दूसरे कामों में भी व्यस्त हैं। एक तरह से यह बहुत अच्छी बात है।

उम्र के इस पड़ाव पर क्या आपको वे लम्हे याद आते हैं, जब आप स्टार नहीं थे, सुकून की जिंदगी गुजारते थे। दोस्तों-यारों के साथ वक्त बिताते थे, मौज-मस्ती करते थे?

हां बिल्कुल। पहले दोस्तों से मिलते थे, किसी दोस्त के घर में महफिल सज जाती थी, जहां मौज-मस्ती, ढेर सारी बातें होती थीं। उस समय दोस्तों को एक-दूसरे से मिलने के लिए सोचना नहीं पड़ता था। जब मूड हुआ एक-दूसरे के यहां मिलने पहुंच जाते थे। वे दिन आज याद करता हूं तो अपने आप ही मस्ती से झूम उठता हूं।

आप अपने बाबूजी हरिवंशराय जी से बहुत प्यार करते हैं, आपके बेटे अभिषेक भी आपसे प्यार करते हैं। क्या प्यार की यह सौगात आप लोगों को विरासत में मिली है?

प्यार ही एक ऐसी भावना है, जो बिना किसी दिखावे के समझ आ जाती है। जैसे कि एक बच्चा अपनी मां से और एक मां अपने बच्चे से सबसे ज्यादा प्यार करती है। ठीक उसी तरह मेरा अपने बाबूजी से प्यार और अभिषेक का मुझसे प्यार नि:स्वार्थ है, जिसके लिए किसी दिखावे या जबरदस्ती की जरूरत नहीं है। मैं बाबूजी को आज भी अपने करीब महसूस करता हूं।

इंसान जब इस दुनिया में जन्म लेता है तो अकेला आता है लेकिन बाद में उसके कई सारे रिश्ते बन जाते हैं। जिंदगी में आपके लिए रिश्तों के क्या मायने हैं?

हां बिल्कुल, एक वक्त जिदंगी में ऐसा आता है कि आप इतने सारे रिश्तों में बंध जाते हैं कि अपने आप को भूल जाते हैं। मैं भी किसी का नाना हूं तो किसी का दादा। किसी का पति हूं तो किसी का पिता। यह सारे रिश्ते अपनेपन का, अहसास दिलाते हैं। मेरा मानना है कि बिना रिश्तों के हमारा जीवन अधूरा है। मैं इन रिश्तों के साथ हर जन्म में खुशी से जीने को तैयार हूं।

आप पिछले कई दशक से सुपर स्टार के रूप में लोगों के दिलों पर राज कर रहे हैं। इस खिताब को आप कैसे देखते हैं?

मैं सुपर स्टार कहलाने में विश्वास नहीं करता हूं। मेरी नजर में कोई छोटा या बड़ा नहीं होता है। एक इंसान आम हो या खास, वो उस इंसान के लिए हमेशा बड़ा और मूल्यवान होता है, जिससे वो बहुत प्यार करता है या जिसके लिए वो खास होता है। मैं खुशनसीब हूं कि मुझे दर्शकों का ढेर सारा प्यार मिला है। साथ ही मैं इसलिए भी अपने आप को खुशनसीब मानता हूं कि मुझे अपनों का भी बहुत प्यार मिला है, फिर चाहे वो मेरे बाबूजी हों, मेरा बेटा अभिषेक हो या मेरी बेटी श्वेता हो या मेरी बहू ऐश्वर्या ही क्यों ना हो।

अपकमिंग फिल्म ‘ठग्स ऑफ हिंदुस्तान’

अब बात करते हैं फिल्मों की। आपकी फिल्म ‘ठग्स ऑफ हिंदुस्तान’ रिलीज के लिए तैयार है। इस फिल्म में आप खूब स्टंट करते नजर आ रहे हैं। इस उम्र में ऐसा किरदार करना मुश्किल रहा होगा?

हां, यह सच है ‘ठग्स और हिंदुस्तान’ में मैंने एक्शन खूब किया है। कुछ एक्शन शॉट काफी मुश्किल थे। इसमें मैंने जो ड्रेस पहना है और उस पर जो जैकेट पहना है, उसका ही वजन 30-40 किलो है। मेरे बाल लंबे हैं, जिन्हें संभालना मुश्किल होता था। ऊपर से कई शॉट तो बारिश में किए हैं। लेकिन जो आउटपुट आया है, उसको देखकर खुशी हो रही है।

इस फिल्म में आप और आमिर खान पहली बार एक साथ काम कर रहे हैं। उनके साथ काम करने का अनुभव कैसा रहा?

आमिर खान सर्वगुणसंपन्न एक्टर हैं, वह सिर्फ एक्टर ही नहीं हैं बल्कि अच्छे निर्देशक, अच्छे कहानीकार, अच्छे संगीतकार भी हैं। ‘ठग्स ऑफ हिंदुस्तान’ में ऐसे टैलेंटेड एक्टर के साथ मेरा काम करने का अनुभव काफी अच्छा रहा। मैं तो आमिर से कहता रहता हूं कि वो एक फिल्म का निर्देशन करें और उसमें मुझे छोटा-सा रोल दे दें लेकिन वो मानता ही नहीं है। आमिर एक नेचुरल एक्टर है, यही वजह है कि आमिर की एक्टिंग में कोई बनावटीपन नजर नहीं आता है।

Next Story
Top