Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

छात्रों पर सख्त हुआ JNU प्रशासन, जारी किया नया सर्कुलर

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय एक बार फिर चर्चा में आ गया है। जेनयू प्रशासन ने छात्रों के लिए नया सर्कुलर जारी किया है। इस सर्कुलर के अनुसार छात्रों को 75 प्रतिशत उपस्थिति अनिवार्यरूप से दर्ज करनी होगी।

छात्रों पर सख्त हुआ JNU प्रशासन, जारी किया नया सर्कुलर

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय(जेएनयू) एक बार फिर चर्चा में आ गया है। जेनयू प्रशासन ने छात्रों के लिए नया सर्कुलर जारी किया है। इस सर्कुलर के अनुसार छात्रों को 75 प्रतिशत उपस्थिति अनिवार्यरूप से दर्ज करनी होगी।

इसे भी पढ़ेंः भारत रचेगा इतिहास, ISRO लगाएगा अंतरिक्ष में शतक- 31 उपग्रह एक साथ होंगे लॉन्च

जेएनयू के सहायक रजिस्ट्रार सज्जन सिंह ने एक सर्कुलर जारी किया है। इस सुर्कलर में कहा गया है कि सभी छात्रों को 75 प्रतिशत अटेंडेंस होनी चाहिए। जेनएयू में होने वाले सभी पार्ट टाइम कोर्स, बीए, एमए, एम.एससी, एम.टेक, एमपीएच, पीजी डिप्लोमा और एम.फिल के सभी छात्रों को कम से कम 75 प्रतिशत उपस्थिति दर्ज करानी होगी।

वापस लौटा मुकुल जैन

जेएनयू से गायब हुए दूसरे छात्र मुकल जैन अपने घर वापस आ गया है। मुकुल स्कूल ऑफ लाइफ साइंस से पीएचडी कर रहा है। बताया जाता है कि सोमवार को मुकुल अपने घर से निकला और खठव आया था। यहां से एक लैब जाने के लिए वह निकला था लेकिन उसके बाद से उसकी कोई जानकारी नहीं मिल पा रही थी।

मुकुल जैन गाजियाबाद रहता है। मुकुल जैन ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि वो पटना गया था और वहां से गंगा स्नान करके वापस आया। पुलिस मुकुल का बयान दर्ज कर उसकी जांच कर रही है।

अभी तक नहीं मिला नजीब

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) में इससे पहले 15 अक्तूबर 2016 को नजीब अहमद नामक एक विद्यार्थी लापता हो गया था। जिसे लेकर जेएनयू प्रशासन और सरकार छात्र संघ के निशान पर रहे हैं। नजीब की गुमशुदगी विपक्ष के लिए एक बड़ा मुद्दा बन गया है। उसे अब तक सीबीआई भी नहीं खोज पाई है। इस वजह से मुकुल के लापता होने के बाद पुलिस मुस्तैद हो गई थी।

Next Story
Top