Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

JNU छात्रसंघ चुनावः एमफिल की स्टूडेंट गीता कुमारी बनीं नई अध्यक्ष

गीता कुमारी ने अपने प्रतिद्वंदी एबीवीपी की निधि त्रिपाठी को हराया।

JNU छात्रसंघ चुनावः एमफिल की स्टूडेंट गीता कुमारी बनीं नई अध्यक्ष

आइसा, एसएफआई और डीएसएफ के संयुक्त गठबंधन लेफ्ट उम्मीदवार गीता कुमारी जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर जीत हासिल की है।

गीता कुमारी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी एबीवीपी की निधि त्रिपाठई को 462 वोटों के अंतर से अध्यक्ष पद पर काबिज हुई। जबकि इस चुनाव में बापसा की शबाना अली तीसरे नंबर पर रहीं।

शबाना को 935 वोट मिले। वहीं निर्दलीय फारूक 419 वोट के साथ चौथे और अपराजिता राजा 416 वोट लाकर पांचवें नंबर पर रहीं।

उपाध्यक्ष पद पर लेफ्ट यूनिटी के तरफ से आइसा की सिमोन जोया खान चुनी गईं। उन्हें कुल 1876 वोट मिले जबकि एबीवीपी के दुर्गेश कुमार को कुल 1028 वोट मिले। बापसा के उम्मीदवार सुबोध कुमार 910 वोट लेकर तीसरे स्थान पर रहे।

साथ ही जनरल सेक्रेटरी पद पर लेफ्ट यूनिटी के तरफ से दुग्गीराला श्रीकृष्णा चुने गए। दुग्गीराला को 2082 मत मिले जबकि इनके प्रतिद्वंद्वी एबीवीपी के निकुंज मकवाना को कुल 975 वोट मिले। बापसा के करम बिद्यानाथ खुमान को 854 वोट मिले।

जॉइंट सेक्रेटरी पद पर लेफ्ट यूनिटी के तरफ से डीएसएफ के शुभांशु सिंह कुल 1755 वोट मिले और एबीवीपी के पंकज केशरी को 930 वोट जबकि बापसा के विनोद कुमार को 860 वोट मिले।

गीता कुमारी हरियाणा के पानीपत जिले की रहने वाली हैं। वे फिलहाल जेएनयू एमफिल दूसरे साल की स्टूडेंट हैं। इससे पहले गीता कुमारी ने फेंच्र में बीए और फिर इतिहास में एमए की थी।

गौरतलब है कि इस चुनाव में यूपी के पूर्व सीएम मायावती की बसपा से संबंधित बहुजन राजनीति पार्टी बापसा ने भी शानदार प्रदर्शन करते हुए लेफ्ट को कड़ी टक्कर दी।

Next Story
Top