Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सम-विषम पर केजरीवाल का यू-टर्न, बोले- परेशानी हुई तो रोक देंगे योजना

केजरीवाल ने कहा कि हम इस योजना का प्रयोग 15 दिन के लिए करेंगे।

सम-विषम पर केजरीवाल का यू-टर्न, बोले- परेशानी हुई तो रोक देंगे योजना
नई दिल्ली. निजी वाहनों के लिए सम और विषम नंबरों की योजना को लेकर व्यापक पैमाने पर जताई जा रही आशंकाओं के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि इस योजना को सीमित समय के लिए आजमाया जाएगा और यदि लोगों को इससे समस्याएं होती हैं तो इसे रोक दिया जाएगा।
विशेषज्ञों और विपक्षी राजनीतिक दलों द्वारा इस योजना की व्यावहारिकता पर सवाल उठाए जाने के बीच केजरीवाल ने कहा कि कुछ निजी वाहनों को छूट देने समेत कई चीजों को अभी देखना बाकी है और यह सिद्धांत रूप से लिया गया फैसला है जिस पर पूर्ण रूप से विचार किया जाएगा। केजरीवाल ने यहां एचटी लीडरशिप समिट में कहा कि, सिद्धांत रूप से, एक फैसला लिया गया है।
बहुत सी चीजों पर अभी फैसला लेना बाकी है, हम कुछ समय के लिए इस पर प्रयोग करेंगे। हो सकता है कि 15 दिन के लिए। यदि बहुत समस्या पैदा होती है तो इसे रोक दिया जाएगा। केजरी ने कहा कि सरकार की योजना थी कि सार्वजनिक परिवहन को मजबूत कर इसे पेश किया जाता लेकिन हाईकोर्ट की टिप्पणी के बाद पैदा हुई 'दहशत' के चलते यह कदम उठाना पड़ा। अदालत ने कहा है कि शहर एक 'गैस चैम्बर' बन गया है।
उन्होंने कहा, ‘‘एक प्रकार की ऐसी दहशत पैदा की गयी कि प्रदूषण इतना बढ़ गया है कि कोई बड़ा कदम उठाना पड़ेगा।’’ शहर में वायु प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए अतिवादी कदम उठाते हुए सरकार ने कल घोषणा की थी कि सम और विषम पंजीकरण नंबरों वाले निजी वाहनों को एक जनवरी से वैकल्पिक दिवस पर ही सड़कों पर चलाने की अनुमति दी जाएगी। आशंकाओं का समाधान निकालने का प्रयास करते हुए केजरीवाल ने कहा कि उनकी सरकार लोगों को परेशानी नहीं होने देगी।
नीचे की स्लाइड्स में पढ़िए, खबर से जुड़ी अन्य जानकारियां -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top