Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पाक ने फिर अलापा कश्मीर राग, भारत ने कहा-पहले आतंकवाद से निपटो

भारत और पाकिस्तान के विदेश सचिवों की नई दिल्ली में बैठक हुई।

पाक ने फिर अलापा कश्मीर राग, भारत ने कहा-पहले आतंकवाद से निपटो
नई दिल्ली. लंबे विवाद और अटकलों के बीच मंगलवार को भारत और पाकिस्तान के विदेश सचिवों की नई दिल्ली में बैठक हुई। दोनों में करीब 90 मिनट बातचीत हुई। पाकिस्तान ने कश्मीर मसले को मुख्य मुद्दा मानते हुए उसका समाधान तलाशने पर जोर दिया। वहीं, भारत ने दो टूक शब्दों में कहा कि पाकिस्तान आतंकवाद के मुद्दे पर ठोस कदम उठाए, नहीं तो द्विपक्षीय संबंधों को आगे बढ़ाना कठिन होगा।
'हार्ट ऑफ एशिया-इस्तांबुल प्रोसेस' सम्मेलन
पाकिस्तान के विदेश सचिव ऐजाज अहमद चौधरी 'हार्ट ऑफ एशिया-इस्तांबुल प्रोसेस' सम्मेलन में भाग लेने मंगलवार सुबह दिल्ली पहुंचे। विदेश सचिव एस. जयशंकर के साथ अलग से उनकी द्विपक्षीय बैठक सुबह 11 बजे साउथ ब्लॉक में हुई। इसमें अजब बात यह रही कि बातचीत खत्म होने से पहले ही पाकिस्तान की ओर से इसका पूरा ब्योरा जारी कर दिया गया। विदेश सचिव जयशंकर ने कहा, 'पाकिस्तान की धरती से आतंकी संगठनों को भारत पर हमले की इजाजत नहीं दी जानी चाहिए। आतंकवाद के मुद्दे का दोनों देशों के रिश्तों पर असर पड़ने से इनकार नहीं किया जा सकता।' बैठक में मछुआरों, कैदियों, तीर्थयात्रियों और आम जनता से जुड़े मानवीय मसलों पर भी बात हुई।
प्रमुख मुददा
पाकिस्तानी विदेश सचिव ने कश्मीर को दोनों देशों के बीच का प्रमुख मुददा करार दिया और मांग की कि इसका समाधान कश्मीरियों की अकांक्षा और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों के अनुसार होना चाहिए। चौधरी ने कहा कि भारत भी महसूस करता है कि दोनों देशों के बीच चीजों के आगे बढ़ने का एकमात्र रास्ता बातचीत है। उन्होंने कहा कि दोनों पक्षों ने इस बात पर सहमति जताई कि लोगों के बीच संपर्क बने रहना चाहिए और मानवीय मुद्दों पर काम जारी रखने पर भी सहमति बनी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top