Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जशपुर में टेंट के सामान के बीच छिपाकर काउंटिंग बूथ तक ले जा रहे थे चुनावी दस्तावेज

जशपुर में स्ट्रांग रूम के भीतर वीवीपैड कंट्रोल यूनिट और बैलेट यूनिट ले जाने का मामला सामने आया है

जशपुर में टेंट के सामान के बीच छिपाकर काउंटिंग बूथ तक ले जा रहे थे चुनावी दस्तावेज
X

विधानसभा चुनाव के ​परिणाम आने में महज दो दिन का वक्त शेष रह गया है, लेकिन ईवीम मशीन में गड़बड़ी के आरोप थमने का नाम नहीं ले रहा है। जशपुर में काउंंटिंग बूथ के भीतर वीवीपैड कंट्रोल यूनिट और बैलेट यूनिट ले जाने का मामला सामने आया है। इस घटना के बाद से पूरे शहर में हड़कंप मच गया है। वहीं, सूचना मिलते ही कुनकुरी आरओ कुलदीप शर्मा, एडिशनल एसपी सहित अन्य अधिकारी मौके पर पहुच गए हैं और लोगों से पूछताछ कर रहे हैं। यह घटना कुनकुरी विधानसभा के बूथ क्रमांक 2 की है।

खबर मिल रही है कि 11 दिसम्बर की मतगणना की तैयारी में जुटे कुछ लोग टैंट का सामना ले जा रहे थे। ईवीएम की पहरेदारी में लगे कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सामान अंदर ले जा रहे लोगों से अंदर प्रवेश करने का परमिशन या आईडी मांगा और उनके सामान की जांच की। जांच के दौरान टेंट के सामान के बीच में चुनावी दस्तावेज पाया गया। इस बात का खुलासा अभी नहीं हो पाया है कि ये सामान उनके पास कहां से आए और किसने भेजे हैं। बहरहाल कर्मचारियों से पूछताछ की जा रही है।

विधानसभा चुनाव के परिणाम से पहले आए एक्जिट पोल को लेकर राजनीतिक दलों के नेता सोशल मीडिया पर भिड़ गए हैं। छत्तीगसढ़ के परिणाम को लेकर एक्जिट पोल बंटे हुए हैं। आधे कांग्रेस तो आधे भाजपा की सरकार बना रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस नेताओं उन एक्जिट पोल को सोशल मीडिया में पोस्ट कर रहे हैं, जिसमें कांग्रेस की सरकार बनती नजर आ रही है। वहीं, भाजपा नेता भी अपनी सरकार बनाने वाले एक्जिट पोल को पोस्ट कर चौथी बार सरकार का दावा कर रहे हैं।

भाजपा नेता पंकज झा ने एक पोस्ट किया है। इसमें लिखा कि जो एकमात्र सर्वे कांग्रेस की सरकार बना रहा है, उसके अनुसार भी कांग्रेस के सभी नेताओं की लोकप्रियता को जोड़ लें, फिर भी वे डॉ रमन सिंह से ज्यादा लोकप्रिय नहीं है। वह भी 15 साल के बाद। क्या मुकाबला करेंगे ये कांग्रेस के लिलिपुट। झा ने एक दोहा भी पोस्ट किया। भूप(भूपेश) सहस दस एकहि बारा, लगहि उठावन टरहि न टारा।

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने लिखा, आ रही है कांग्रेस, परिवर्तन मांगे सारा देश। एग्जिट पोल: आप फलानी पार्टी के हैं तो फलाने और ढिकानी पार्टी के हैं तो ढिकाने सोशल मीडिया पर आम आदमी भी एक्जिट पोल को लेकर राय दे रहा है।

जितेंद्र पांडेय ने लिखा-हम रोज 50 लोगों से बात करके तय नहीं कर पा रहे हैं कि हमारी अपनी विधानसभा का क्या रिजल्ट होगा। एक्जिट पोल के रिजल्ट को कितना सही मानें। सौरभ तिवारी ने लिखा-अगर आप फलानी पार्टी के समर्थक हैं, तो फलाने और अगर आप ढिकानी पार्टी के समर्थक हैं तो ढिकाने चैनल के एक्जिट पोल से 11 दिसंबर तक खुद को तसल्ली देते रहें। परिणाम आने के बाद सब साफ हो ही जाएगा।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story