logo
Breaking

सीबीएसई का सर्कुलर जारी, 2020 से 10वीं में होंगी गणित की दो परीक्षाएं

लाखों छात्रों के दबाव को कम करने के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने कक्षा 10वीं में गणित की दो अलग-अलग स्तर की परीक्षा शुरू करने का फैसला किया है। इसके लिए बोर्ड ने सर्कुलर जारी किया है।

सीबीएसई का सर्कुलर जारी, 2020 से 10वीं में होंगी गणित की दो परीक्षाएं

लाखों छात्रों के दबाव को कम करने के लिए केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने कक्षा 10वीं में गणित की दो अलग-अलग स्तर की परीक्षा शुरू करने का फैसला किया है। इसके लिए बोर्ड ने सर्कुलर जारी किया है। इस बदलाव को 2020 तक लागू किया जाएगा।

सर्कुलर के बाद गणित की परीक्षा दो स्तर (बेसिक और स्टैंडर्ड) की होगी। इसमें पहली गणित-मानक की परीक्षा होगी, जो मौजूदा सामान्य स्तर की परीक्षा होगी। दूसरी गणित-मूल की परीक्षा होगी, जो आसान स्तर की परीक्षा होगी।

सीबीएसई ने ये फैसला दो अलग-अलग स्तर के छात्रों को ध्यान में रखते हुए लिया है। जो छात्र गणित में अच्छे नहीं है उनके लिए ये अच्छी खबर है। जो छात्र आर्ट्स या कॉमर्स लेकर पढ़ाई करना चाहते हैं, वे बेसिक स्तर का चुनाव कर सकते हैं। जेईई मेन सहित इंजीनियरिंग से संबंधित किसी भी कोर्स के लिए गणित स्टैंडर्ड की पढ़ाई जरूरी होगी।

स्तर और सेलेबस में बदलाव नहीं

वहीं सीबीएसई ने साफ कहा है कि गणित का मौजूदा स्तर और सेलेबस में किसी भी प्रकार का बदलाव नहीं किया जाएगा। सर्कूलर में कहा गया है कि गणित की दो स्तर की परीक्षाओं से ना सिर्फ दो अलग-अलग तरह के छात्रों को लाभ होगा बल्कि इससे परीक्षाएं भी अलग होंगे और छात्रों में तनाव का स्तर भी कम होगा। नियम मार्च 2020 और उसके बाद समाप्त होने वाले शैक्षणिक सत्रों पर लागू होगा। इस वर्ष होनी वाली परीक्षाओं में छात्र पुराने पैटर्न से ही परीक्षा देंगे।

अन्य बदलाव भी

गौरतलब है, हाल ही में सीबीएसई ने कक्षा 8वीं, 9वीं और 10वीं के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस कोर्स लागू करने का फैसला लिया है। इन कोर्सेज की शुरुआत कक्षाओं के लिए वैकल्पिक विषय के रूप में की जाएगी। सीबीएसई द्वारा 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा की डेटशीट पहले ही जारी की जा चुकी है।

परीक्षा का आयोजन 15 फरवरी 2019 से होगा। परीक्षा संबंधी किसी भी जानकारी या मदद के लिए सीबीएसई के आधिकारिक वेबसाइट पर छात्र जा सकते हैं।

Share it
Top