Logo
Budget 2024: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज अंतरिम बजट पेश करेंगी। बजट पेश करने से पहले केंद्र सरकार ने बड़ा तोहफा दिया है। सरकार ने स्मार्टफोन कंपोनेंट्स पर आयात शुल्क घटाकर 10 फीसदी कर दिया है। इससे मोबाइल की कीमतें कम होने की संभावना है।

Budget 2024: सरकार ने भारत में स्मार्टफोन के मैन्युफैक्चरिंग के निर्माण को बढ़ावा देने के लिए बड़ा कदम उठाया है। केंद्र सरकार ने अंतरिम बजट पेश करने से पहले स्मार्टफोन के कंपोनेंट्स पर आयात शुल्क पर 5% की कटौती की है। सरकार ने स्मार्टफोन कंपोनेंट्स पर इम्पोर्ट ड्यूटी को 15% घटाकर 10% कर दिया है। मोदी सरकार के इस फैसले से शाओमी और एप्पल जैसी कंपनियों को फायदा होगा, जो भारत में मोबाइल फोन की मैन्युफैक्चरिंग करते हैं। साथ ही इन कंपोनेंट्स को बनाने में काम आने वाले इनपुट्स के आयात पर आयात शुल्क को जीरो कर दिया गया है।

आयात शुल्क में कटौती से स्मार्टफोन की कीमत होगी कम
भारत ने स्मार्टफोन मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देने और कीमतें कम करने के इरादे से स्मार्टफोन कंपोनेंट्स पर आयात शुल्क 15% से घटाकर 10% कर दिया है। इसके परिणामस्वरूप, भारत में मैन्युफैक्चरिंग करने वाली कंपनियां अब कैमरा लेंस, बैक कवर, प्लास्टिक और मेटल मैकेनिकल पार्ट, जीएसएम एंटेना और अन्य देशों से आयात होने वाले कंपोनेंट्स जैसी वस्तुओं पर कम टैक्स का भुगतान करेंगी।

यह भी पढ़ेंः 5G सर्विस लॉन्च कर सकती है VI, यूजर्स को मिलेगी नेटवर्क समस्या से निजात 

इसके अलावा, लागत में कमी एप्पल, सैमसंग, श्याओमी, ओप्पो, वीवो, रियलमी और वनप्लस जैसे मौजूदा निर्माताओं को अपने निवेश को बढ़ावा देने और नए निर्माताओं को भारत में प्रोडक्शन शुरू करने के लिए प्रेरित कर सकती है।

Apple और Xiaomi ने भारत में किया भारी निवेश
2022 में, Apple ने 1 बिलियन डॉलर के भारी निवेश के साथ भारत में अपने कारखाने में iPhone और AirPods बनाना शुरू किया। वहीं, Xiaomi, 2014 से, Redmi, Mi और POCO जैसे स्मार्टफोन बनाने वाली पांच भारतीय फैक्ट्रियां चलाती है। सैमसंग, जिसने 2007 में भारत में प्रोडक्शन शुरू किया था, छह कारखानों का संचालन करता है। सरकार का यह निर्णय इन सभी ब्रांडों और कई अन्य ब्रांडों के लिए बहुत फायदेमंद है।

jindal steel Haryana Ad hbm ad
5379487