Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बिहार: बाढ़ का कहर जारी, 11 की मौत, 17 लोग लापता, हेल्पलाइन नंबर जारी

बाढ़ के बाद कई रेलवे स्टेशन भी जलमग्न हो गए हैं।

बिहार: बाढ़ का कहर जारी, 11 की मौत, 17 लोग लापता, हेल्पलाइन नंबर जारी

बिहार के किशनगंज समेत आठ जिलों में आई भारी बाढ़ के बाद दीवार टूटने से 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि इस हादसे में 17 से ज्यादा लोग लापता हो गए है।

सीएम नीतीश कुमार द्वारा केंद्र से सेना की मदद मांगे जाने के बाद दानापुर के बिहार रेजिमेंट सेंटर से 80 जवानों की टीम बिहार में बाढ़ से निबटने के लिए पहुंच गई है।

इन जवानों को बाढ़ग्रस्त इलाकों से लोगों को सुरक्षित निकालने की जिम्मेदारी दी गई है। गौरतलब है कि उत्तर बिहार से लेकर पूर्वी बिहार भारी बारिश के कारण बाढ़ का संकट झेल रहा है।

कई जगहों पर रेलखंडों व एनएच पर पानी बह रहा है और कई रेलवे स्टेशन भी जलमग्न हो गए हैं। इससे प्रभावित इलाकों में आवागमन बाधित हो गया है।

इसे भी पढ़ें: बिहारः बक्सर के DM ने गाजियाबाद में की आत्महत्या

बाढ़ के बिगड़ते हालात को देखते हुए सूबे के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह और रक्षा मंत्री अरुण जेटली से फोन पर बातचीत की।

प्रधानमंत्री और गृहमंत्री से बातचीत के दौरान सीएम नीतीश ने बिहार में बाढ़ की पूरी स्थिति से उन्हें अवगत कराया। साथ ही एनडीआरएफ की 10 टुकड़ियों की बिहार में भेजने की मांग की है।

नेपाल के जलग्रहण क्षेत्रों में हो रही भारी वर्षा के कारण वहां दर्जनों लोगों की मौत की खबर है। नेपाल से बहकर आ रहे पानी से बिहार के सीमांचल जिले पूर्णिया, कटिहार, अररिया, किशनगंज में पिछले 24 घंटों से हो रही भारी बारिश के कारण उत्पन्न बाढ़ की स्थिति को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार स्वयं सघन समीक्षा कर रहे हैं।

जोगबनी और किशनगंज स्टेशन डूबा

बाढ़ के कारण अररिया का जोगबनी स्‍टेशन डूब गया है। अररिया, किशनगंज, कटिहार व चंपारण में जगह-जगह रेल ट्रैक पर पानी बह रहा है। इस कारण दर्जनों ट्रेनों का परिचालन प्रभावित हुआ हैं। कटिहार का पूर्वोत्‍तर भारत से रेल संपर्क टूट गया है। अररिया-जोगबनी रेलखंड पर फिलवक्त ट्रेनों का आवागमन रोक दिया गया है।

हेल्पलाइन नंबर

पूर्णिया: 06454241555

अररिया: 06453222209

किशनगंज: 06456223452, 06456223453, 06456223455

Next Story
Top