Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

10वीं की छात्रा ने बिहार बोर्ड की खोली पोल, फेल होने के बाद निकली टॉपर

हाईकोर्ट ने बिहार बोर्ड को प्रियंका सिंह की कॉफी दिखाने का आदेश दिया था, जिसके बाद वो टॉप 10 छात्रों की लिस्ट में शामिल हो गई है।

10वीं की छात्रा ने बिहार बोर्ड की खोली पोल, फेल होने के बाद निकली टॉपर

बिहार बोर्ड में एक बार फिर घोटाला करने का केस सामने आया है। यह केस सिटनाबाद पंचायत की प्रियंका सिंह को बिहार बोर्ड में फेल कर दिया था। प्रियंका ने अपने रजल्ट को लेकर हाई कोर्ट में चुनौती है. और जांच में बिहार बोर्ड का घोटाला सामने आया है।

यह भी पढ़ेंःहिमाचल चुनाव: BJP ने जारी की स्टार प्रचारकों की लिस्ट, इन दिग्गजों पर खेलेगी दांव

प्रियंका 10 वी कक्षा की मेधावी छात्रा थी। मेधावी छात्रा परीक्षा में प्रथम श्रेणी से नहीं बल्कि पूरे बिहार में उसे 10 वां स्थान प्राप्त हुआ।

प्रियंका को संस्कृत विषय में केवल 9 अंक मिले थे जिसकी वजह से उन्हें फेल घोषित कर दिया था। विज्ञान वर्ग में भी उसे उम्मीद से कम अंक मिले थे। प्रियंका ने री चैक का फोर्म भरा लेकिन बिहार बोर्ड ने नो चेंज कहकर उसे वापस भेज दिया। तब प्रियंका ने हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटया।

हाईकोर्ट ने बिहार बोर्ड को प्रियंका की कॉफी दिखाने का आदेश दिया। जब कॉफी हाईकोर्ट पहुंची तो वह बदली हुई थी। दरअसल प्रियंका की आंसर शीट में बार कोडिंग गलत रूप से हुई थी।

यह भी पढ़ेंःगुजरात चुनाव: बीजेपी की बढ़ी मुश्किलें, ओबीसी नेता अल्पेश ठाकुर ने थामा कांग्रेस का हाथ

प्रियंका की कॉफी से संतुष्टि कुमारी को संस्‍कृत और साइंस में फेल बजाय पास कर दिया गया। जबकि मेधावी छात्रा पास से फेल कर कर दिया गया।इससे बिहार बोर्ड में चल रहे घोटाले का पता चला। इस मामले में हाईकोर्ट ने बिहार बोर्ड पर दस लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया है।

Next Story
Top