Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कॉल ड्राप की समस्या से निपटने के लिए ट्राई की बैठक आज, हो सकता है ये फैसला

कॉल ड्राप की गहराती समस्या से चिंतित दूरसंचार विभाग इस मुद्दे पर विचार विमर्श के लिए 10 जनवरी को कंपनियों व नियामक ट्राई के साथ अलग अलग बैठक करेगा।

कॉल ड्राप की समस्या से निपटने के लिए ट्राई की बैठक आज, हो सकता है ये फैसला
X

कॉल ड्राप की गहराती समस्या से चिंतित दूरसंचार विभाग इस मुद्दे पर विचार विमर्श के लिए 10 जनवरी को कंपनियों व नियामक ट्राई के साथ अलग अलग बैठक करेगा।

दूरसंचार सचिव अरूणा सुंदरराजन ने यहां कहा कि दूरसंचार कंपनियों के सीईओ (मुख्य कार्यपालकों) के साथ बैठक में कॉल ड्राप की मौजूदा स्थिति पर चर्चा होगी। इसके साथ ही उन सेवा गुणवत्ता संबंधी नए नियमों पर भी चर्चा होगी जो ट्राई ने पिछले साल अक्टूबर में लागू किए।

यह भी पढ़ें- रेल यात्रियों को मोदी सरकार का तोहफा, फ्री में कर पाएंगे इंटरनेट का इस्तेमाल

दूरसंचार विभाग 10 जनवरी को नियामक ट्राई के साथ अलग से बैठक करेगा ताकि काल गुणवत्ता से जुड़े मुद्दों पर विचार विमर्श किया जा सके।

भारतनेट परियोजना को लेकर यहां आयोजित एक कार्यक्रम के अवसर पर उन्होंने कहा, ‘हम कॉल ड्राप की स्थिति को लेकर सरकार की चिंताओं से कंपनियों को अवगत कराना चाहते हैं। सेवा प्रदाताओं को मिलकर काम करना होगा।'

कॉल की गुणवत्ता लगातार खराब हुई

कॉल ड्राप का मतलब मोबाइल पर बात करते समय कॉल का अचानक ही बीच में कट जाने से है। ग्राहकों की बढ़ती शिकायतों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि काल की गुणवत्ता लगातार खराब हुई है।

यह भी पढ़ें- 15 दिनों की जबरदस्त बैट्री बैकअप के साथ लॉन्च हो रहा है ये देसी स्मार्टफोन, जानें कीमत एवं फीचर्स

उल्लेखनीय है कि दूरसंचार कंपनियों की सेवाओं की गुणवत्ता पिछले दो साल में बड़ा मुद्दा रहा है। 2016 में नियामक ने कंपनियों से कहा था कि वे काल ड्राप के लिए अपने उपयोक्ताओं को मुआवजा दें हालांकि उसका यह आदेश उच्चतम न्यायालय ने खारिज कर दिया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story