Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आपके सिर का फड़कना कितना लाभकारी है, आइए जानें

मनुष्य के शरीर के कई अंग कई बार अपने आप फड़कने लगते हैं। शरीर के अंगों के फड़कना भी हमें भविष्य में कुछ अच्छा या बुरा होने का संकेत देता है। यह हमें आने वाले समय के बारे में संकेत देता है। यह भविष्य में होने वाली घटना या दुर्घटना को लेकर सजग करता है। तो आइए जानें शकुन शास्त्र के अनुसार व्यक्ति के सिर के फड़कने का क्या मतलब होता है।

आपके सिर का फड़कना कितना लाभकारी है, आइए जानें
X
प्रतीकात्मक

मनुष्य के शरीर के कई अंग कई बार अपने आप फड़कने लगते हैं। शरीर के अंगों के फड़कना भी हमें भविष्य में कुछ अच्छा या बुरा होने का संकेत देता है। यह हमें आने वाले समय के बारे में संकेत देता है। यह भविष्य में होने वाली घटना या दुर्घटना को लेकर सजग करता है। तो आइए जानें शकुन शास्त्र के अनुसार व्यक्ति के सिर के फड़कने का क्या मतलब होता है।

अनेक लाभ देता है सिर का फड़कना

अगर किसी व्यक्ति का पूरा सिर फड़के तो यह इस बात संकेत है कि आने वाला समय शुभता पूर्ण हो सकता है। दूसरे से धन की प्राप्ति, राज सम्मान, मुकदमें में जीत, धन या भूमि सम्बन्धित लाभ होने की प्रबल संभावना होती है। सिर के बायीं ओर का भाग फड़के तो वह मनुष्य निकट भविष्य में यात्रा करेगा और यात्रा व्यवसायिक हुई तो लाभ होने की प्रबल संभावना है, हालांकि यह लाभ बहुत बड़ा लाभ नहीं होगा।

अत्यंत शुभकारी है सिर का सिर का दांया भाग फड़कना

अगर किसी व्यक्ति के सिर का दांया भाग फड़के तो यह अत्यन्त शुभकारी माना जाता है। इसके परिणाम स्वरूप धन की प्राप्ति, राज सम्मान, नौकरी में प्रोन्नति, किसी ऊंची प्रतियोगिता में सफलता, लॉटरी में जीत या लाभ की संभावना बनती है।

सिर का पिछला भाग फड़के तो होती है विदेश यात्रा

अगर सिर का पिछला भाग फड़के तो वह विदेश यात्रा का योग बनाता हुआ अधिक लाभ प्रदान करने वाला होता है, लेकिन यह इस बात के भी संकेत हैं कि उसे अपने देश में कम लाभ होने की संभावना रहती है। अगर सिर का अगला भाग फड़के तो यह अपने देश या विदेश दोनों में लाभ की संभावना को व्यक्त करता है।

और पढ़ें
Next Story