Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ये है दुनिया का सबसे जहरीला शहर, नहीं रह सकते इंसान

इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट के नाम पर इस शहर को जहरीला बना दिया गया

ये है दुनिया का सबसे जहरीला शहर, नहीं रह सकते इंसान
X
वॉशिंगटन. आज हम आपको एक ऐसे शहर के बारे में बताने जा रहे हैं जो बहुत ही खतरनाक मानी जाती है और इस वजह से ये जगह खाली पड़ी हुई है। ऐसा शहर जहां पर 7 सालों से कोई भी नहीं रहता है यह शहर पूरी तरह से वीरान पड़ा हुआ है।
जी हां ओक्लाहोमा में बसे पिशेर को अमेरिका का सबसे जहरीले टाउन माना जाता है। दरअसल, पिशेर को अमेरिका के सबसे जहरीले टाउन्स में गिना जाता है। 20th सेंचुरी की शुरुआत तक पिशेर अमेरिका के टॉप माइनिंग इंडस्ट्रीज का घर माना जाता था।
लेकिन साल 2009 में इस शहर को खाली करवा दिया गया था। तब से यहां कोई भी नहीं गया। यहां जिंक और लीड जैसे मिनरल काफी ज्यादा पाए जाते थे। इसलिए यहां काफी तेजी से इंडस्ट्रियल सेक्टर की ग्रोथ हुई। 1913 में जब ओक्लाहोमा का डेवलपमेंट प्लान चल रहा था तब पिशेर को इंडस्ट्रियल सेक्शन में सबसे टॉप पर रखा गया था।
10 हजार आबादी वाले इस टाउन का नाम पिशेर लीड कंपनी के मालिक ओलिवर पिशेर के ऊपर रखा गया। लेकिन वहां के हालात इतने बुरे हो गए कि यहां रहने वाले लोगों की लाइफ पर खतरा मंडराने लगा। 1996 तक पिशेर में रहने वाले 34% बच्चे लीड पोइजनिंग का शिकार हो गए थे।
साल 2009 में पिशेर टाउन को खाली करवा दिया गया था। इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट के नाम पर इस शहर को जहरीला बना दिया गया। जानकारी के अनुसार, यहां की हवा और पानी दोनों जहरीले हो गए थे। जिंक और लीड के खनन की वजह से यहां काफी अमाउंट में टौक्सिक वेस्ट जमा हो गया। इस शहर को अमेरिका के भुतहा शहरों में एक माना जाता है। लेकिन यहां की खूबसूरती आज भी वैसी ही बनी हुई है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story