Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

17 फरवरी को धरती से टकरा सकता है निबिरू क्षुद्र गृह

अगर ये टक्कर हुई तो धरती पर आ सकती है सुनामी।

17 फरवरी को धरती से टकरा सकता है निबिरू क्षुद्र गृह
X
नई दिल्ली. धरती के ख़त्म होने की खबर तो कई बार आ चुकी है, लेकिन हर बार यह खबर एक अफवाह बनकर रह गई है। इसी बीच एक बार फिर दावा किया जा रहा है कि आज से 17 दिन बाद यानि 17 फरवरी को धरती पूरी तरह से नष्ट हो जाएगी।
कई साल पहले ही नष्ट हो चुके अन्तरिक्ष गृह निबिरू के अवशेष की एक चट्टान धरती से टकरा सकती है। अगर ऐसा हुआ तो फिर धरती को नष्ट होने से कोई भी नहीं बचा सकता। एक वेबसाइट से मिली जानकारी के अनुसार, बताया जा रहा है कि निबिरू गृह की ये चट्टान धरती से टकराकर तबाही मचाने वाली है।
हालांकि इस खबर को आधिकारिक या वैज्ञानिक पुष्टि नहीं हो सकी है लेकिन खबर की वजह से अटकलों का बाजार ख़ासा गर्म है। कहना है कि यह निबिरू गत अक्‍टूबर में सूर्य का चक्‍कर लगा रहा था लेकिन अब वहां से निकल चुका है।
नासा ने कोरी अफवाह बताई
गौरतलब है कि दिसंबर 2015 में भी इसी तरह की अफवाहें सामने आई थीं कि कोई अज्ञात पिंड पृथ्वी से टकरा सकता है। दूसरी ओर,नासा ने फिलहाल ऐसी किसी संभावना से इंकार कर दिया है। पांच साल पहले नासा ने कहा था कि ये सब कोरी अपवाह है। इनका हकीकत से कोई लाना देना नहीं है।

आरोपः नासा छिपा रहा तथ्य
नासा को इस बात की जानकारी है लेकिन वह इस तथ्‍य को छुपाया जा रहा है। जखरोविच ने बताया कि यह चट्टान पृथ्‍वी के लगभग ढाई किमी के दायरे से यदि गुजरे तो अधिक समस्‍या नहीं है। लेकिन यदि यह धरती के भीतर तक आ गई तो हालात बेकाबू हो जाएंगे।
ऐसा होने पर परिणाम भयावह हो जाएंगे जो सुनामी या विशाल तूफान के रूप में सामने आ सकते हैं और इसका गंभीर परिणाम होगा कि कई शहर तबाह हो जाएंगे। गौरतलब है कि दिसंबर 2015 में भी इसी तरह की अफवाहें सामने आई थीं कि कोई अज्ञात पिंड पृथ्‍वी से टकराने वाला है। दूसरी ओर, नासा ने फिलहाल ऐसी किसी भी संभावना से इंकार किया है। पांच साल पहले नासा ने कहा था कि ये सब कोरी अफवाह है। इनका हकीकत से कोई लेना देना नहीं है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि
, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story