Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अजूबाः एक मरीज के दो ब्लड ग्रुप, कैसे चढ़ाएं खून

शरीर में ब्लड की मात्रा भी अलग-अलग सामने आई है

अजूबाः एक मरीज के दो ब्लड ग्रुप, कैसे चढ़ाएं खून
X
धमतरी. खून की कमी से अस्पताल में जिंदगी और मौत से जूझ रहे एक मरीज की ब्लड जांच रिपोर्ट चौंकाने वाली आई है। शासकीय जिला अस्पताल की रिपोर्ट निगेटिव तो मसीही अस्पताल की रिपोर्ट पॉजीटिव बता रही है। शरीर में ब्लड की मात्रा भी अलग-अलग सामने आई है। इससे मरीज के परिजन असमंजस में पड़ गए है कि किस अस्पताल की जांच रिपोर्ट सही है। कौन से ग्रुप के ब्लड की व्यवस्था मरीज को चढ़ाने के लिए करें।
जिला मुख्यालय से 5 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत सोरम है। यहां के निवासी पेशे से शिक्षाकर्मी है। नारायण साहू (28) पिता भुवन लाल साहू के शरीर में खून की कमी होने से बीमार है। 25 नवंबर को नारायण ने जिला अस्पताल में ब्लड की जांच करवाई तो रिपोर्ट में उसका ब्लड ग्रुप ए पॉजीटिव बताया गया। 26 नवंबर शनिवार को नारायण मसीही अस्पताल में भर्ती हुआ।
वहां दोबारा खून की जांच की गई तो रिपोर्ट में ब्लड ग्रुप एबी निगेटिव बताया गया। परिजन दोनों रिपोर्ट देखकर भौचक्के रह गए। तत्काल मसीही अस्पताल में फिर से ब्लड ग्रुप की दोबारा जांच करवाई तो भी ब्लड गु्रप एबी निगेटिव ही आया। अब जिला अस्पताल या मसीही अस्पताल की रिपोर्ट को सही माने, परिजनों को समझ में नहीं आ रहा है। अब तो अस्पताल के डॉक्टर ही बता पाएंगे कि मरीज को कौन से ग्रुप का ब्लड शरीर में चढ़ाया जाए। परिजनों ने अस्पताल व पैथालॉजी से मिले अलग-अलग ब्लड जांच रिपोर्ट को गंभीरता से लेकर जांच की मांग की है। जांच में गड़बड़ी करने वाले अस्पताल व पैथालॉजी लैब के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।
रिपोर्ट की जांच होगी
इस संबंध में जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. बीके साहू का कहना है कि ब्लड ग्रुप में गड़बड़ी है, तो मरीज तत्काल अस्पताल पहुंचकर शिकायत करें। पुनः जांच की जाएगी। एक व्यक्ति के दो ब्लड ग्रुप नहीं हो सकते। जांच रिपोर्ट की जांच करवाई जाएगी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story