Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चमत्कारः मछली के पेट में तीन दिन रहकर लौटा मछुआरा

मछुआरा अपनी घड़ी की रोशनी से पता लगाता था कि वो व्हेल के पेट में कहां है

चमत्कारः मछली के पेट में तीन दिन रहकर लौटा मछुआरा
X
नई दिल्ली. आपने वो कहावत तो सुनी होगी जाको राखे साईंया, मार सके ना कोई... असल जिंदगी में भी यह सच हो गई। एक मछुआरा तीन दिन व्हेल मछली के पेट में रहा और और चौथे दिन वो उसके पेट से निकलकर आ गया। जी हां! आपने सही पढ़ा। वर्ल्ड न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, 56 वर्षीय स्पेनिश मछुआरा लुइगी मार्क्वेज़ रोजाना की तरह समुद्र में मछली पकड़ने के लिए गया लेकिन तुफान के चलते उसकी नाव लापता हो गई। कोस्टल गार्ड ने जब सर्च अभियान चलाया तो लुइगी मार्क्वेज़ के बारे में कुछ भी पता नहीं चल सका। इसके घटना के चार दिन बाद अचानक लुइगी मिल गया।
जब लुइगी मार्क्वेज़ से पूछा गया कि वह कैसे बचा तो उसने बताया कि तुफान में उसकी नाव फंस गई थी और इस बीच व्हेल ने उसे अपना शिकार बना लिया था। वह तीन दिनों तक व्हेल के पेट में ही था। उसने बताया कि वो अपनी घड़ी की रोशनी से पता लगाता था कि वो व्हेल के पेट में कहां है।
लुइगी ने बताया कि व्हेल जो छोटी मछलियां खाती थी तो वह उसके पेट में मौजूद उन छोटी मछलियों को खाकर ही गुजारा करता था। उसने वर्ल्ड न्यूज को बताया कि ये जिंदगी के सबसे संघर्ष के दिन मैने जीये। जहां हर जगह सिर्फ अंधेरा था और मैं ठंड से कांप रहा था। मछुआरे ने बताया कि तीन दिन वो व्हेल के पेट में रहा और चौथे दिन व्‍हेल ने उसे खुद ही पेट से निकाल दिया।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story