Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नहीं है दोनों हाथ, पैरों से करता है अपनी बूढ़ी मां की देखभाल

चेन की मां पैरालाइज्ड हैं।

नहीं है दोनों हाथ, पैरों से करता है अपनी बूढ़ी मां की देखभाल
X
नई दिल्ली. दिव्यांग होने के बावजूद 48 वर्षीय चेन जिनिन के अंदर गजब की इच्छाशक्ति है। चेन चीन के रहने वाले हैं। उन्हें एक हादसे में अपने दोनों हाथ गंवाने पड़े थे। दरअसल सात साल की उम्र में चेन जिनिन को बिजली का करंट लगा था और इस दुर्घटना में उन्हें अपने दोनों हाथ गंवाने पड़े।

इसके बावजूद चेन ने हार नहीं मानी। उन्होंने अपने खेत में किसानी की। चेन जब 20 साल के थे तब उनके पिता की मौत हो गई थी। चेन की मां पैरालाइज्ड हैं। हर गुजरते दिन के साथ उनकी मां की हालत बिगड़ती ही रहती है और इन सब का भार चेन के कंधों पर अकेले हैं।

लॉजिकल इंडियन की रिपोर्ट के मुताबिक, एक समय ऐसा आया था जब चेन ने हार मान ली थी और सड़कों पर भीख मांगने का फैसला किया था। तभी चेन के मन में ख्याल आया कि अभी उसके दो पांव बचे हुए हैं। चेन ने अब सारे दैनिक कामकाज सीख लिए हैं। साल 2014 में भाई-बहन के छोड़ कर चले जाने के बाद चेन अपनी 91 वर्षीय पैरालाइज्ड मां की देखभाल खुद करता है।

चेन बिना हाथ के चम्मच को मुंह मे पकड़ कर अपनी मां को खाना खिलाते हैं। इसके अलावा चेन अब खाना बनाने में भी माहिर हो गए हैं। साथ ही उन्होंने गेंहू और मकई की खेती, टोकरी बनाना भी सीख लिया है। इन सब के अलावा चेन समय रहने पर अपने पड़ोसियों की मदद करने से भी नहीं चूकते। चेन की कहानी वाकई में प्रेरणा देने वाली है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story