Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

केरल: मांस नहीं, मंदिर का प्रसाद खाता है 71 साल का ये मगरमच्छ

बबिया ने पवित्र तालाब में स्नान करने वाले किसी भी श्रद्धालु को आज तक नुकसान नहीं पहुंचाया है।

केरल: मांस नहीं, मंदिर का प्रसाद खाता है 71 साल का ये मगरमच्छ
X
नई दिल्ली. केरल के कासरगोड जिले में स्थित अनंतपुर मंदिर विश्व प्रसिद्ध है। स्पिकिंग ट्री डॉट इन के मुताबिक इस मंदिर के तालाब में भगवान विष्णु का एक ऐसा भक्त भी रहता है जो सालों से इसकी पहरेदारी कर रहा है। शायद आपको ये सुनकर विश्वास न हो, लेकिन ये भक्त कोई और नहीं बल्कि 71 साल का एक विशाल मगरमच्छ है। जिसका नाम है बबिया।
बबिया ने वर्षों से मांस को चखा तक नहीं है। भगवान विष्णु की सच्ची भक्ति में लीन ये वर्षों से मंदिर परिसर की रखवाली कर रही है। श्रद्धालु कई बार बबिया की सिर्फ एक झलक पाने के लिए तालाब में उतरते हैं। बबिया (मगरमच्छ) ने पवित्र तालाब में स्नान करने वाले किसी भी श्रद्धालु को आजतक नुकसान नहीं पहुंचाया है।
यहां के लोकल निवासी कई बार सिर्फ बबिया को देखने के उद्देश्य से इस मंदिर में आते हैं। बबिया यहां के स्थानीय पुजारियों की देख-रेख में रहती है। बबिया की साधारण सी खुराक में मंदिर की तरफ से दिन में तीन बार मिलने वाला प्रसाद होता है।
मंदिर के संचालक श्री रामचंद्र भाट ने बताया, 'हमारा विश्वास है कि बबिया को यहां ईश्वर ने ही भेजा है। जब तक बबिया यहां है तब तक इस मंदिर और इसके शुभचिंतकों के साथ कुछ गलत नहीं होगा।'
कुछ स्थानीय निवासियों ने बताया कि 1945 में एक ब्रिटिश सोल्जर ने बबिया को अपनी बंदूक का निशाना बनाया था। लेकिन अगले ही दिन बबिया को चुस्ती-तन्दुरूस्ती के साथ तैरते देखा गया। इस घटना के कुछ ही दिन बाद उस ब्रिटिश सोल्जर को सांप ने काट लिया और उसकी मौत हो गई थी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story