Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

यहां बेपर्दा रहती हैं औरतें और पर्दे में रहते हैं मर्द, महिलाएं करती हैं मर्दों का शारीरिक शोषण

शादी से पहले महिलाओं को कई मर्दो से संबंध बनाने की इजाजत भी है।

यहां बेपर्दा रहती हैं औरतें और पर्दे में रहते हैं मर्द, महिलाएं करती हैं मर्दों का शारीरिक शोषण
X

यूं तो आपने अभी तक महिलाओं के साथ रेप होने के बारे सुना होगा, लेकिन पश्चिमी अफ्रीका के नाइजर इलाके में निवास करने वाली तुआरेग जनजाति में महिलाएं शादी से प‍हले किसी भी मर्द के साथ जबरन शारीरिक संबध बना सकती है। और यहां पर शादी से पहले महिलाओं को कई मर्दो से संबंध बनाने की इजाजत भी है।

ये जनजाति महिला सशक्‍तीकरण का एक उदाहरण है, महिलाएं अपनी मर्जी से किसी भी मर्द के साथ शादी कर सकती हैं।

और शादी के बाद महिलाएं किसी गैर मर्द के साथ शारीरिक संबंध भी बना सकती हैं। और अपनी इच्छानुसार तलाक ले लेती है। लेकिन इस जनजाति में शादी होना तो रोज की आम बात है। लेकिन यदि किसी महिला को तलाक मिलता है महिला के घरवाले जश्न मानते है।

तलाक लेने के बाद तुआरेग महिलाएं चाहे तो अपने पूर्व पति की सारी सम्‍पति पर अधिकार जमा सकती है। यदि किसी पुरुष को कोई काम करना होता है तो महिला से इजाजत लेनी पड़ती है। लेकिन कोई भी मर्द किसी अन्य महिला से संबंध नहीं बना सकता।

बता दें कि यहां की इस जनजाति की महिलाएं पर्दा नहीं करती हैं, बल्कि इस कबिले के नौजवानों को पर्दे में रहना पड़ता है।

तुआरेग जनजाति मातृसतात्‍मक समाज है, जहां महिलाओं को पुरुषों की तुलना में अधिक अधिकार दिए गए है। यहां वो शादी से पूर्व कई प्रेमी रख सकती है। तुआरेग जनजाति में मर्द नहीं बल्कि महिलाएं घर की मुखिया होती है।

इस तुआरेग जनजाति की महिलाएं अपना चेहरा सार्वजानिक तौर पर नहीं ढकती हैं क्‍योंकि इस कबिले की महिलाएं चाहती हैं, कि मर्द उनकी सुन्दरता की ओर आकर्षित हों, वहीं इस जनजाति के युवा मर्द को अपना चेहरा ढककर रखना पड़ता है।

इस वजह से मर्दों को ब्‍लू मैन ऑफ द सहारा कहा जाता है। क्‍योंकि नीले कलर की पगड़ी और कपड़े की वजह से इनके शरीर में ब्‍लू कलर का रंग चढ़ जाता है। जिस वजह से यहां के मर्द को ये नाम मिला।

लेकिन यहां पर सेक्‍स पर बहुत प्राइवेसी रखी जाती है। यहां शाम होते ही युवक- युवतियों के टैंट में जाकर रात बिता सकते है। इससे लड़की के घरवालों को भी कोई ऐतराज नहीं होता है। लेकिन सूर्योदय से पहले उस युवक को टेंट से वापस चले जाना होता है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story