Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अंटार्कटिका महासागर में उठी अब तक की सबसे ऊंची लहर, डूब जाएंगी 8 मंजिला इमारत

अंटार्कटिक ओशियन में तूफान के चलते 70 फीट तक लहर उठी है।

अंटार्कटिका महासागर में उठी अब तक की सबसे ऊंची लहर, डूब जाएंगी 8 मंजिला इमारत
X

अंटार्कटिक ओशियन में तूफान के चलते 70 फीट तक लहर उठी है। वैज्ञानिकों ने इसे दक्षिणी गोलार्द्ध की अब तक की सबसे ऊंची लहर बताया है।

न्यूजीलैंड के मौसम विभाग के अनुसार, इस लहर की ऊंचाई करीब 8 मंजिला इमारत के बराबर थी। समुद्र के भौतिक और जैविक पहलुओं का अध्ययन करने वाले वरिष्ठ वैज्ञानिक टॉम डुरंट ने बताया कि उन्होंने और उनके साथियों ने पहली बार इतनी ऊंची लहर देखी।

ये भी पढ़ें- कर्नाटक चुनाव 2018: बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के काफिले पर हमला

उनका कहना है कि खराब मौसम के दौरान तूफान आने पर ही 25 मीटर से अधिक ऊंची लहर उठी होगी या भविष्य में उठ सकती है। हालांकि उन्होंने स्पष्ट किया कि लहर मापने वाला यंत्र हर 3 घंटे में सिर्फ 20 मिनट ही लहरों को रिकॉर्ड कर सकता है।

पिछले साल 19.4मीटर ऊंची लहर रिकॉर्ड की गई थी

पृथ्वी का 22 फीसदी महासागर का हिस्सा दक्षिणी गोलार्द्ध में है। ऑस्ट्रेलिया-न्यूजीलैंड स्थित क्षेत्र को लहरों के हिसाब से सबसे ताकतवर इलाका माना जाता है। यहां हर साल मई-जून में तूफान की वजह से बड़ी लहरों के उठने का सिलसिला जारी रहता है। पिछले साल मई में भी यहां 19.4 मीटर ऊंची लहर रिकॉर्ड की गई थी। इस साल ये रिकॉर्ड टूट गया। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया के तस्मानिया में 2012 में उठी 22 मीटर ऊंची लहर दक्षिण गोलार्द्ध की सबसे ऊंची लहर थी।

20 मीटर से ऊंची लहरें खतरनाक

डुरंट के मुताबिक, 20 मीटर से ज्यादा ऊंची लहरें समुद्र में चलने वाले जहाज और नावों के लिए बेहद खतरनक होती हैं। आमतौर पर जहाज लहरों के बल पर ही आगे बढ़ते हैं,लेकिन इतनी ऊंची लहरों की वजह से कभी-कभी उनके पलटने या नुकसान होना का खतरा पैदा हो जाता है।

1958 में उठी थी 30.5मीटर ऊंची लहर

दुनियाभर में अबतक सबसे ऊंची लहर 1958 में अमेरिका के अलास्का में रिकॉर्ड की गई थी। उस दौरान भूकंप के तेज झटकों की वजह से समुद्र में सुनामी आई थी और एक लहर की ऊंचाई करीब 30.5 मीटर तक पहुंच गई।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story