Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

चाइनीज किट से होगी गर्भ के बच्चे की जांच, लड़का होगा या लड़की

भारत में चीन की ये लिंग जांच वाली किट काफी वायरल हो रही है।

चाइनीज किट से होगी गर्भ के बच्चे की जांच, लड़का होगा या लड़की
X

बच्चों के पैदा होने पर लोग जानना चाहते हैं कि लड़की होगी या लड़का। इस मामले में गर्भ की जांच करना कानून जुर्म है लेकिन चाइना ने इसका तोड़ ढूंढ़ निकाला है।

अब लिंग की जांच सिर्फ अल्ट्रासाउंड से ही नहीं हो रही है। खून की जांच से भी लिंग का पता लगाया जा रहा है। चीन की प्रतिबंधित किट से भारत में लिंग की जांच का खेल चल रहा है। गुपचुप तरीके से चीनी किट भारत में खपाई जा रही है। हरियाणा समेत दूसरे राज्यों में किट पकड़ी गई हैं।

अप्रैल 2017 में हरियाणा और मुंबई समेत दूसरे राज्यों में चीनी किट से गर्भ में पल रहे शिशु का लिंग पता करने का घिनौना खेल चल रहा है।

Image result for chinese kit sex determination

अकेले हरियाणा में गर्भस्थ का लिंग पता करने के 80 मामले प्रकाश में आ चुके हैं। 10 से ज्यादा लोगों पर कानूनी कार्रवाई हो चुकी हैं। इंडियन फेडरेशन ऑफ अल्ट्रासाउंड इन मेडिसिन एंड बायोलॉजी (आईएफयूएमबी) के सदस्य डॉ. अतुल कुमार अग्रवाल ने बताया कि चीन से आयतित किट से न सिर्फ लिंग निर्धारण हो रहा है

बल्कि गर्भ का चिकित्सीय समापन भी हो रहा है। उन्होंने बताया कि गर्भस्थ के खून के नमूने से उसके लिंग का पता लगाया जा रहा है। खून की दो बूंद किट पर रखी जाती है। नतीजा सामने आ जाता है। चिकित्सा विज्ञान में इसे फिटल हीमोग्लोबिन जांच कहते हैं।

इसके अलावा किट के साथ मुहैया कराई जा रही दवा से कोख में ही लड़कियों की हत्या किए जाने की भी आशंका है। उन्होंने बताया वे खुद भी हरियाणा सरकार और वहां के स्वास्थ्य महानिदेशक को भी पत्र लिखा है। उन्होंने कहा कि पत्र में प्रतिबंधित चीनी किट की बेच-खरीद पर कड़ाई से प्रतिबंध लगाने की मांग की गई है।

आईएफयूएमबी के डॉ. पीके श्रीवास्तव ने कहा कि प्रतिबंधित चीनी किट की बेच-खरीद की निगरानी व जांच तंत्र का पता लगाना कठिन है। पर, भारत में इस तरह की किट मिलना गंभीर बात है। इसकी धरपकड़ को लेकर अफसरों को अलर्ट हो जाना चाहिए, ताकि कोख में लड़कियों की हत्या को प्रभावी तरीके से रोका जा सके।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story