Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गलती से भी न करें अब दीवारों पर पेशाब, नहीं तो गिले हो जाएंगे आपके कपड़े

splashes pee back on public urinators

गलती से भी न करें अब दीवारों पर पेशाब, नहीं तो गिले हो जाएंगे आपके कपड़े
X
हैमबर्ग. लोग सार्वजनिक पेशाबघर के होते हुए भी जहां जगह मिलती है, पेशाब करने लगते हैं। दीवारों पर 'पेशाब करना मना है' का स्लोगन लिखा होने के बाद भी वे नहीं मानते हैं। लोग अपने घर को तो खूब साफ-सुथरा रखते हैं, लेकिन घर के बाहर निकलते ही सारी दुनिया को कूड़ेदान समझने लगते हैं। खुले में पेशाब करने से लोग जरा भी हिचकते या शर्माते नहीं हैं।
दीवार हो या फिर पेड़ चाहें जहां वे पेशाब करने लगते हैं, लेकिन अब ऐसे लोगों की खैर नहीं है। जर्मनी के हैमबर्ग के सैंट पॉली ने इसका तोड़ ढूढ़ लिया है। दरअसल पोली ने एक ऐसा सुपरहायड्रोफोबिक प्रदार्थ बनाया है जो पेंट की तरह है। इस पेंट को दीवार पर लगाने से जो भी उस दीवार पर पेशाब करेगा पेशाब वापस उसके पैरों की तरफ आने लगेगा।
पोली का कहना है कि वो लोगों की हरकतों से तंग आ गए थे। यहां पर लोग कहीं भी पेशाब कर देते थे जिसके कारण उनकी दुकान के पास बहुत बंदबू आया करती थी। खास कर जो लोग शाम को शराब पीकर यहां से गुजरा करते थे ऐसे लोग अधिक जहां-तहां पेशाब कर दिया करते थे। इसी कारण उन्होंने इसका तोड़ निकालने का ये आसान सा तरीका निकाला।
एक बार जब पोली का यह टेस्ट कामयाब हो गया तो पोली ने इसका एक वीडियो जारी किया जिसमें लोगों को दिखाया गया है कि कैसे लोग जब इस पेंट से रंगे दीवार पर पेशाब कर रहे हैं तो उनका पेशाब वापस उन्ही पर आने लगा और वो पेशाब को बीच में ही रोक के जाते नजर आ रहे हैं।
नीचे की स्लाइड्स में देखिए वीडियो -
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story