Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अब इस्तेमाल किए गए टॉयलेट पेपर से बनेगी बिजली!

रद्दी टॉयलेट पेपर के इस्तेमाल से नवीकरणीय बिजली पैदा की जा सकती है।

अब इस्तेमाल किए गए टॉयलेट पेपर से बनेगी बिजली!
X

वैज्ञानिकों का कहना है कि आवासीय इमारतों में लगाए जाने वाले सौर ऊर्जा पैनलों की कीमत पर दो चरणों वाली एक प्रक्रिया के जरिए रद्दी टॉयलेट पेपर बिजली पैदा की जा सकती है।

अगर इस प्रक्रिया को अपनाया जाता है तो इससे नगर निगम के कूड़ा जमा करने वाले क्षेत्रों के अत्यधिक भर जाने की समस्या और जीवाश्म ईंधनों पर निर्भरता की समस्या को हल किया जा सकता है। रद्दी टॉयलेट पेपर को अक्सर किसी काम का नहीं समझा जाता है।

इसे भी पढ़ें- शर्मनाकः ऐसा देश जहां पूरा ग्रुप एक महिला को घेरकर उसका बलात्कार करता है

बता दें कि टॉयलेट पेपर कार्बन का एक बेहतर स्रोत है और सूखा रहने पर इसमें 70-80 प्रतिशत सेलूलोज मौजूद होता है।

पश्चिमी यूरोप में हर साल प्रत्येक व्यक्ति द्वारा औसतन 10-14 किलोग्राम टॉयलेट पेपर कचरे के तौर पर निकाला जाता है।

नालों में जमा होने वाली इस रद्दी की मात्रा भले ही मामूली हो लेकिन यह नगर निगम के कचरे का महत्त्वपूर्ण हिस्सा होता है।

इसे भी पढ़ें- 20 सालों से पानी के अंदर रहती है ये असहाय महिला, रुला देगी इनकी पूरी कहानी

नीदरलैण्ड के एम्स्टर्डम विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के मुताबिक, रद्दी टॉयलेट पेपर के इस्तेमाल से नवीकरणीय बिजली पैदा की जा सकती है।

चूंकि टॉयलेट पेपर में सेलूलोज पेड़ों से आता है। यह नवीकरणीय बिजली के लिए समाज की मांग के मिलान के लिए एक शानदार अवसर प्रदान करता है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story