Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आसमान में मौजूद है लोहे का तारा, बेचने पर विश्व के प्रत्येक व्यक्ति को मिलेंगे इतने रुपये

नासा को सौरमंडल में बेहद अजीब तारा मिला है। तारा 16 साइकी पूरा लोहे का है। नासा ने अधिक जानकारी के लिए अब मदद मांगी है। जिसके बाद नए खुलासे हो सकते हैं।

नासा ने जारी की मंगल ग्रह पर स्थित हेलीकॉप्टर की आवाज
X
नासा 

नासा को आसमान में लोहे का तारा मिला है। पहाड़ जैसा एस्टेरॉयड (छोटा तारा) पूरा का पूरा लोहे का है। इसका नाम 16 साइकी दिया गया है। इसमें इतना लोहा है की अगर इसे धरती पर ला कर बेचा जाए तो धरती के हर व्यक्ति को अरबपति बन सकता है।

लोहे से बने तारे का व्यास लगभग 226 किलोमीटर है। इसका वजन पृथ्वी के चन्द्रमा का 1 फीसदी है। नासा ने इसका नाम 16 साइकी (16 Psyche) दिया है। नासा ने अमेरिका के स्पेस एक्स के मालिक एलन मस्क से मदद मांगी है। कहा है की वे एस्टेरॉयड में मौजूद लोहे की जानकारी के लिए अपना स्पेस मिशन शुरू करें। इसके बाद नए खुलासे होने की उम्मीद है।

तारे पर सोने का है भंड़ार

वैज्ञानिकों के मुताबिक तारे में सोने का भंड़ार है। इसमें लोहे के अलावा सोना, निकेल और प्लेटिनम भी है। ऐसे में इसको बेचने पर धरती के 8 अरब से ज्यादा लोग अरबपति बन सकते हैं।

170 साल पहले हुई थी खोज

तारे की खोज 170 साल पहले हुई थी। इटली के खगोलशास्त्री एनीबेल डी गैस्परिस ने इसे खोजा था। इसके बाद अब नासा ने शोध कर लोह अयस्क का पता लगाया है। इसके अलावा सोने, प्लेटिनम के भंड़ार की पुष्टि की है। इसके अलावा इसके वजन और कीमत का भी आंकलन किया गया है।

Next Story