Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इस रहस्यमय द्वीप पर साल में सिर्फ एक बार जाने की मिलती है इजाजत

ये दुनिया कई तरह के रहस्यों से भरी पड़ी है। ऐसा ही एक रहस्यमय द्वीप स्कॉटलैंड में मौजूद है जहां साल में सिर्फ एक बार जाने की इजाजत दी जाती है। इस रहस्यमय द्वीप का नाम आइनहैलो (Eynhallow) जो मेनलैंड , ओर्कने और रौसय के बीच स्थित है।

इस रहस्यमयी द्वीप पर साल में सिर्फ एक बार जाने की मिलती है इजाजत, रहस्य जानकार हो जायेंगे हैरान
X
आइनहैलो द्वीप

रहस्यों से भरा हुआ आइनहैलो आइलैंड (Eynhallow Island) स्कॉटलैंड में मौजूद है इस द्वीप की खास बात यह है कि इसका आकर दिल की तरह है। जो दिखने में बेहद ही खूबसूरत लगता है लेकिन हैरानी की बात ये है कि यहां साल में सिर्फ एक दिन ही लोगों को जाने की इजाजत मिलती है। बाकी के 364 दिन इस आइलैंड पर किसी भी व्यक्ति का आना मना है। आइये जानते है इस द्वीप के उस रहस्य को जिसकी वजह से यहां किसी का भी आना मना है।

आइनहैलो द्वीप के रहस्यमयी होने की वजह

आइनहैलो आइलैंड आकार में इतना छोटा है कि इसे नक्शे में ढूंढ पाना भी बहुत मुश्किल है। क्योंकि यह द्वीप मेनलैंड,ओर्कने और रौसय के बीच 75 हेक्टेयर क्षेत्र में स्थित है। लेकिन इस द्वीप को लेकर कई रहस्यमयी कहानियां प्रचलित हैं जिनके आधार पर कहा जाता है कि आइनहैलो आइलैंड भूत-प्रेतों का द्वीप है जिस पर बुरी आत्माओं का साया है। अगर कोई भी व्यक्ति इस द्वीप पर आने की कोशिश करता है तो ये बुरी आत्माएं द्वीप को हवा में गायब कर देती हैं।

आइनहैलो द्वीप का इतिहास

स्कॉटलैंड के हाईलैंड्स विश्वविद्यालय के प्रोफेसर 'डेन ली' का कहना है कि इस आइलैंड पर हजारों साल पहले लोग रहा करते थे। लेकिन वर्ष 1851 में यहां प्लेग की महामारी फैल गई थी। जिसकी वजह से यहां रहने वाले लोग यह द्वीप छोड़कर चले गए। जिसके बाद से यह द्वीप बिल्कुल वीरान पड़ा हुआ है। यहां कई पुरानी इमारतों के मलबे मिले हैं। पुरातत्वविदों के मुताबिक, आइनहैलो की खुदाई में पाषाण काल की दीवारें और भी कई वस्तुएं मिली हैं। जिसके आधार पर इतिहासकार यहां हजारों साल पहले शहर के होने का दावा करते हैं।

साल में एक बार आने की मिलती है इजाजत

आइनहैलो द्वीप, ओर्कने आइलैंड से सिर्फ 500 मीटर की दूरी पर स्थित है। जहां लोग रहते हैं लेकिन इसके बावजूद आइनहैलो द्वीप पर आना आसान नहीं और न ही आइनलैंड पर आने की इजाजत दी जाती है। क्योंकि इस द्वीप पर यहां बहने वाली नदियों के जरिये ही आया जा सकता है लेकिन इन नदियों में इतने ज्यादा ज्वार-भाटे आते हैं जिनसे नावों के रास्तों में रुकावट पैदा होती है। हालांकि ओर्कने हेरिटेज सोसाइटी (Orkney Heritage Society) हर साल जुलाई में एक यात्रा आयोजित करती है। जिसके जरिये आइनहैलो पर विजिटर घुमने जा सकते हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top