Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मां ने सौतेली बेटी के तोते को पीट-पीट कर मार डाला, कोर्ट ने सुनाई ऐसी सजा-नहीं होगा यकीन

सौतेली बेटी के तोते को पीट-पीट कर मारने के जुर्म के सिंगापुर की अदालत ने बुधवार को एक महिला को चार हफ्ते के कारावास की सजा सुनाई है। वियतनाम मूल की महिला त्रान थी थुई हैंग के दाहिने गाल में उसकी सौतली बेटी के तोते ''लकी'' ने पिछले साल 27 अक्टूबर को काट लिया था।

मां ने सौतेली बेटी के तोते को पीट-पीट कर मार डाला, कोर्ट ने सुनाई ऐसी सजा-नहीं होगा यकीन
X

सौतेली बेटी के तोते को पीट-पीट कर मारने के जुर्म के सिंगापुर की अदालत ने बुधवार को एक महिला को चार हफ्ते के कारावास की सजा सुनाई है। वियतनाम मूल की महिला त्रान थी थुई हैंग के दाहिने गाल में उसकी सौतली बेटी के तोते 'लकी' ने पिछले साल 27 अक्टूबर को काट लिया था।

इस पर उसने पिजड़े में ही तोते को मार डाला। स्थायी रूप से यहां रहने वाली हैंग ने तोते द्वारा काटे जाने के बाद तुरंत अपने साठ साल के पति यू ची मेंग से इसकी शिकायत की और घर से उसे बाहर निकालने को कहा।

जिस समय तोते ने हैंग को काटा उस वक्त वह उसकी सौतेली बेटी यू मे लिंग के कंधे पर बैठा था, उस वक्त लिंग बैठक में मौजूद थी। हैंग उसके पीछे आई, इसी दौरान लकी उसकी तरफ उड़ा और दाहिनी गाल में काट लिया।

हैंग ने क्रोध में लकी को घर से तुरंत निकालने की मांग की और कहा कि अगर ऐसा नहीं होता है तो वह उसे मार देगी। अगले दिन मेंग और उनकी बेटी लिंग सुबह नाश्ते के लिए घर से बाहर गए।

इसी दौरान हैंग ने एक थापी (बांस का कपड़े धोने के लिए बना मोगरा) लिया और लकी का पिंजड़ा खोला और उससे वह उसे तब तक पीटती रही जब तक उसकी मृत्यु नहीं हो गई।

इसके बाद उसने लकी का शव और पिंजड़ा दोनों उठा कर घर के बाहर फेंक दिया। मामले में सजा सुनाते हुए जिला जज ने कहा कि हैंग ने जानबूझ कर यह क्रूरता भरा काम किया था। हैंग ने पिछले महीने लकी की हत्या के मामले में अपनी गलती स्वीकार की थी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story