Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

हैरतअंगेज: ये है रहस्यमयी रेगिस्तान ''डेथ वैली'', यहां अपने आप खिसकते हैं पत्थर, देखें VIDEO

इन खिसकते पत्थरों को ''सिलिडिंग स्टोन्स'' के नाम से जाना जाता है। वैज्ञानिकों की टीम ने पत्थरों के एक ग्रुप का नामकरण कर उस पर सात साल अध्ययन किया।

हैरतअंगेज: ये है रहस्यमयी रेगिस्तान डेथ वैली, यहां अपने आप खिसकते हैं पत्थर, देखें VIDEO
X

पूर्वी कैलिफोर्निया में एक रहस्यमयी रेगिस्तान है, जिसका नाम डेथ वैली है। इस जगह पर सबसे ज्यादा जो चीज चौंकाती है वह है यहां के अपने-आप खिसकने वाले पत्थर।

जी हां, यहां इस रेगिस्तान के पत्थर बिना किसी की मदद के खिसकते हैं। इन खिसकते पत्थरों को 'सिलिडिंग स्टोन्स' के नाम से जाना जाता है। वैज्ञानिकों की टीम ने पत्थरों के एक ग्रुप का नामकरण कर उस पर सात साल अध्ययन किया।

वहीं इनमें से एक केरीन नाम का पत्थर लगभग 317 किलोग्राम का था जो अध्ययन के दौरान बिल्कुल भी नहीं हिला था, लेकिन जब वैज्ञानिक कुछ साल बाद वहां वापस लौटे, तो उन्होंने उस पत्थर को अपनी जगह से 1 किलोमीटर दूर पाया।

हालांकि वैज्ञानिक अब तक कोई ठोस वजह का पता नहीं लगा पाए हैं कि आखिर ये पत्थर अपनी जगह से खुद-ब-खुद खिसकते कैसे हैं, लेकिन वैज्ञानिकों का यह मानना है कि किसी इंसान या जानवर के जरिए इन पत्थरों को घसीटने के सबूत नजर दिखाई नहीं देते क्योंकि वहां मौजूद मिट्टी बिना छेड़छाड़ दिखाई देती है।

इसलिए संभावना जताई जाती है कि भौगोलिक बदलाव या तूफान के चलते पत्थर अपने आप खिसक जाते हैं। खैर पत्थर के खिसकने का रहस्य आज भी बना हुआ है। खुद-ब-खुद खिसकसे हुए ये पत्थर वैज्ञानिकों के लिए एक ऐसी पहले बनी हुई जिसे अब तक सुलाझाया नहीं गया है।

यहां के रेसट्रैक क्षेत्र में 320 किलोग्राम तक के पत्थरों को एक जगह से दूसरी जगह जाते हुए देखा गया है। आपको बता दें, रेसट्रैक प्लाया 2.5 मील उत्तर से दक्षिण और 1.25 मील पूरब से पश्चिम तक बिल्कुल सपाट है लेकिन यहां बिखरे हुए पत्थर खुद-ब-खुद खिसकते हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story