Breaking News
Top

यहां स्थित है रामप्रिया जानकी गर्भगृह, यहीं हुआ था सीता-राम विवाह

टीम डिजिटल/हरिभूमि, दिल्ली | UPDATED Oct 29 2018 11:14AM IST
यहां स्थित है रामप्रिया जानकी गर्भगृह, यहीं हुआ था सीता-राम विवाह

नेपाल का शहर जनकपुर विदेह राजा जनक की नगरी है। बिहार के सीतामढ़ी से करीब 42 किलोमीटर उत्तर में नेपाल की तराई में जनकपुर स्थित है। यहां पर मां जानकी का विशाल मंदिर है। जनकपुर प्राचीन मिथिला राज्य की राजधानी थी।

यह वो पवित्र स्थान है, जिसका धर्मग्रंथों, काव्यों एवं रामायण में उत्कृष्ट वर्णन है। यहां स्थित जानकी मंदिर देवी सीता को समर्पित है। इसे नौलखा मंदिर के नाम से भी जाना जाता है।

वर्तमान जानकी मंदिर का निर्माण टीकमगढ़ की महारानी वृषभानु कुंअरि जी द्वारा 1967 में करवाया गया था। मंदिर दूर से देखने में किसी महल-सा लगता है।

मंदिर के मुख्य गर्भगृह में माता जानकी, राजा रामचंद्र और लक्ष्मण जी की प्रतिमाएं हैं। मंदिर के बाहर विशाल प्रांगण है। कहा जाता है कि जनकपुर में ही वैशाख शुक्ल नवमी को मां जानकी का अवतार हुआ था।

इस अवसर को जानकी नवमी के रूप में मनाया जाता है। जनकपुर का दूसरा प्रमुख त्योहार विवाह पंचमी का है। इसी दिन सीता जी का भगवान रामचंद्र जी से विवाह हुआ था।

उस दिन ये मंदिर खूब सजाया जाता है। मंदिर के अंदर 2012 में एक सुंदर गैलरी का निर्माण हुआ। इसमें राम जी के जन्म से जुड़ी कथा झांकियों के रूप में देखी जा सकती है।

झांकियों के साथ यहां मधुबनी पेंटिंग का सुंदर संकलन है, जिसमें रामकथा के कई प्रसंग है। झांकी में मंदिर में माता सीता को किए जाने वाले शृंगार का सामान भी देखा जा सकता है।

जानकी मंदिर में पिछले कुछ सालों से अखंड सीताराम धुन जारी है। जनकपुर आने वाले हिंदू श्रद्धालु मिथिला परिक्रमा भी करते हैं, जिसमें सीताजी से जुड़े सारे तीर्थ स्थल आते हैं।


ADS

(हमसे जुड़े रहने के लिए आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं )
jaanki temple history of sita ram vivha

-Tags:#Jaanki Temple#Ram Temple#Ayodhya#Babri Masjid#Supreme Court

ADS

मुख्य खबरें

ADS

ADS

Copyright @ 2017 Haribhoomi. All Right Reserved
Designed & Developed by 4C Plus Logo