Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इस तकनीक से चिकित्सा की क्षेत्र में होगा बदलाव, 140 वर्ष तक जी सकेंगे इंसान

परिवर्तित वातावरण के चलते लोगों की उम्र घटती जा रही है। लोग जहां पहले 80 से 90 साल तक जीते थे, अब वो 60 साल भी बहुत मुश्किल से अपनी जिंदगी जी पाते हैं।

इस तकनीक से चिकित्सा की क्षेत्र में होगा बदलाव, 140 वर्ष तक जी सकेंगे इंसान
X

पूराने समय में लोग ज्यादा जीते थे, लेकिन अब लोग उम्र को लेकर काफी चिंतित रहने लगे है। परिवर्तित वातावरण के चलते लोगों की उम्र घटती जा रही है। लोग जहां पहले 80 से 90 साल तक जीते थे, अब वो 60 साल भी बहुत मुश्किल से अपनी जिंदगी जी पाते हैं।

आपको बता दें कि अब डॉक्टर उसके लिए नई तकनीक का इस्तेमाल करने के साथ-साथ इस पर रिसर्च भी कर रहे हैं कि लोग किस तरह से अधिक साल तक अपना जीवन जी सके।
आपको बता दें कि चिकित्सा के क्षेत्र में दिन-प्रतिदिन हो रहे बदलाव की वजह से अब लोग 140 साल तक जीवित रह सकेगें।
चिकित्सा के क्षेत्र में हो रहे बदलाव में डिजिटल टेक्नॉलजी का अहम योगदान है। इसकी मदद से स्वास्थय संबंधी छोटी से छोटी जानकारी भी आसानी से मिल जाती है। दावोस में चल रही विश्व आर्थिक मंच की शिखर बैठक में स्वास्थ्य प्रौद्योगिकी पर एक परिचर्चा हुई।
इस परिचर्चा के दौरान विशेषज्ञों ने कहा कि टेक्नॉलजी के इस उभरते परिदृश्य में अस्पतालों की भूमिका केवल आपात चिकित्सा कक्ष की रह जाएगी। वहीं माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नडेला ने कहा कि डिजिटल टेक्नॉलजी आधारित चौथी औद्योगिक क्रांति चिकित्सा क्षेत्र को इस कदर बदल देगी कि कृत्रिम ज्ञान की प्रौद्योगिकी और डेटा से लैस चिकित्सा वैज्ञानिक तत्काल रोग के सर्वोत्तम निदान ढूंढने में बड़े-बड़े दिग्ग्जों को पीछे छोड़ देंगे।

इसे भी पढ़ें : गरीबी का रामबाण इलाज, इस गांव के पास

अस्पतालों का प्रबंध भी डिजिटल प्रौद्योगिकी पर आधारित हो जाएगा। मेडिकल रिकार्ड तुरंत के तुरंत उपलब्ध हो सकेंगे। इस सत्र के बारे में जारी आधिकारिक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि प्रौद्योगिकी और औषधियों के तालमेल से दुनिया स्वास्थ्य की दृष्टि से बेहतर हो रही है।
विज्ञप्ति में कहा गया है, 'कुछ ही दशकों में लोग 140 वर्ष तक जी सकेंगे। अस्पताल आपात चिकित्सा कक्ष भर रह जाएंगे क्योंकि लोग अपनी बीमारी का प्रबंध खुद करने लगेंगे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story