Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

खूनी नर्स , 90 लोगों को जहर का इंजेक्शन लगाकर उतारा मौत के घाट

पुलिस अब 1999 से साल 2005 तक के बीच की 130 शवों की जांच कर रही है।

खूनी नर्स , 90 लोगों को जहर का इंजेक्शन लगाकर उतारा मौत के घाट
X

जर्मनी में एक दिल दहला देने वाले वारदात के बारे में 2 साल बाद खुलासा हुआ है। दरअसल, 40 साल के पुरुष नर्स नील्स होजल को फरवरी 2015 में जर्मनी के ब्रेमेन शहर के डेलमनहॉर्स्ट हॉस्पिटल में 2 हत्याओं और 4 हत्या की कोशिश में गिरफ्तार किया गया था।

इसे भी पढ़ेंः जहरीले भू-जल की चपेट में समूचा भारत

बताया जा रहा है कि द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद जर्मनी में यह सबसे ज्यादा बड़ी हत्या की वारदात का अंजाम दिया गया है। जर्मन पुलिस ने दो साल पहले नर्स नील्स होजल को 2 लोगों को जानलेवा दवाई देकर मारने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। अब पुलिस ने बताया है कि इस नर्स ने कम से कम 90 मरीजों को जानलेवा दवाइयों को ओवरडोज देकर मौत के घाट उतारा है।

इस मामले की जांच कर रही पुलिस को शक है कि यह मामला और बड़ा हो सकता है, इसलिए पुलिस ने शक के आधार पर उन स्थानों पर हुई मौतों की भी जांच की, जहां 10 साल के दौरान नील्स की ड्यूटी रही थी। पुलिस अब 1999 से साल 2005 तक के बीच की 130 शवों की जांच कर रही है।

इसे भी पढ़ेंः यूरोप में हुआ अब तक का सबसे बड़ा अंडा घोटाला, 15 देशों में पहुंचे जहरीले अंडे

ओल्डनबर्ग शहर के पुलिस चीफ जोहान ने बताया कि नील्स ने किस तरह ICU में उन मरीजों को अपना निशाना बनाया जिनकी हालत गंभीर थी। अभी तक 90 हत्याओं के सबूत मिले हैं और कई संदिग्ध मामले अभी तक सुलझ नहीं सके हैं।

नील्स ने यह माना है कि वह मरीजों को इंजेक्शन के जरिए ऐसी दवाइयां देता था जिससे हार्ट फेल होता हो या रक्त संचार तंत्र काम कर देना बंद कर देते हों। इसके बाद वह मरीज के मरने तक उसे बचाने की कोशिश का दिखावा करता था और खुद को अपने अन्य सहयोगियों के सामने मरीजों के मसीहा के तौर पर पेश करता था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story