Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

11 साल की बच्ची का बढ़ता पेट देख डॉक्टर समझ बेठे प्रेगनेंट, चेकअप बाद सामने आया हैरान करने वाक्या

ऑस्ट्रेलिया के क्वींसलैंड मेें रहने वाली 11 साल की चेरिश के पेट में अचानक दर्द होने पर चेरिश की मां उसे हर्वे बे हॉस्पिटल ले गई, तो डॉक्टरों ने देख तुरंत किया इलाज।

11 साल की बच्ची का बढ़ता पेट देख डॉक्टर समझ बेठे प्रेगनेंट, चेकअप बाद सामने आया हैरान करने वाक्या
X

आमतौर पर हम सभी को पेट दर्द जैसी परेशानी से जूझना पड़ता है, लेकिन इस दर्द को हल्का समझ नजरअंदाज कर देते हैं या मामूली सी पेनकीलर खा लेते हैं। जब हम खूद ही डॉक्टर बन इसका इलाज करने लगते हैं, तो ये हमारी सबसे बड़ी भूल होती हैं।

जी हां ऐसे तमाम देसी डॉक्टर आपके घरों में होंगे, लेकिन ये कितना घातक सिद्ध हो सकता है, इस एक मामले से स्पष्ट होता है। ऐसा एक मामला पेट दर्द से जुड़ा सामने आया है।

जिसने डॉक्टर को भी सोचने पर मजबूर कर दिया। यहां तक की डॉक्टर ने तो उसकी बीमारी को कुछ और ही समझ लिया था। इसके बारे में सुन कर आपके पैरों तले जमीन खिसक जाएगी।

इसे भी पढ़ें : चेहरे पर लड़की ने ब्लड लगाकर फेसबुक पर पोस्ट की तस्वीर, वजह जानकर रह जाएगें हैरान

दरअसल, ऑस्ट्रेलिया में एक स्कूलगर्ल के पेट में दर्द और तकलीफ को डॉक्टर प्रेग्नेंसी समझने बैठे। लेकिन क्वींसलैंड की रहने वाली 11 साल चेरिश रोज लावेले को कुछ ओर ही बीमारी थी। उसका वेट अचानक गिरने लगा और उसके पेट में दर्द रहने के साथ उसका साइज बढ़ने लगा।

मां भी जानकर हेरात में पड़ गई

चेरिश की मां जब उसे हॉस्पिटल लेकर गई, तो शुरुआती दौर में डॉक्टर्स को लगा कि लड़की प्रेग्नेंट है, लेकिन चेकअप में दूसरी ही बात सामने निकलकर आई। चेरिश में तेजी से फिजिकल चेंज तो हो ही रहे थे और इसके साथ ही उसकी लुक में भी फर्क आ गया था, लेकिन मां लुईस को लगा कि ईटिंग डिस्ऑर्डर के चलते ये बदलाव आया है।

लुईस ने बताया कि पिछले दो महीने से मैं उसे बदलाव देख रही थी। वो पहले की तरह खुश मीजाज की भी नहीं थी और न ही पहले की तरह गाना गाती थी। पर एक दिन अचानक चेरिश के पेट में भयानक दर्द शुरू हो गया। तब लुईस उसे लेकर इलाज के लिए हर्वे बे हॉस्पिटल पहुंची।

इसे भी पढ़ें : जमीन पर दौड़ी, हवा में उछली, फिर दूसरे फ्लोर पर जा पहुंची कार

ट्रीटमेंट के दौरान निकली ये चीज

डॉक्टर को उसका हाल और पेट का बढ़ता साइज देखकर लगा कि वो प्रेग्नेंट हैं। हालांकि, पेट में दर्द और बिगड़ते शरीर के पीछे वजह कुछ और ही थी। डॉक्टर्स ने जब उसका टेस्ट कराया गया तो ओवरी में जर्म सेल कैंसर की बात सामने आई।

इसे भी पढ़ें : पंजाब के इस गांव में हर घर पर है एयरपोर्ट, जानिए क्या है वजह

होम स्कूल से कर रही पढ़ाई

डॉक्टर हैरान रह गए क्योंकि ये कैंसर इस उम्र की लड़कियों में बहुत ही मुश्किल से होता है। इसके बाद ट्रीटमेंट के लिए उसका छह महीने का पूरा शेड्यूल बदला गया और उसे ट्रीटमेंट तक होमस्कूल में आगे की पढ़ाई करने के लिए कहा गया।

इसके साथ ही चेरिश की कीमोथैरेपी का सिलसिला शुरू हुआ और दो हफ्तों बाद जब ट्यूमर का साइज घट गया, तो ट्यूमर को निकाल दिया गया। हालांकि, इसके अभी कीमोथैरेपी का सिलसिला जारी रहेगा, लेकिन उसे अपने पूरे बाल गंवा देने पड़े।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story