Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बॉस से बिना पूछे प्रेग्नेंट होना पड़ा महंगा, जानें बच्चा और सजा में से किसे चुना

चीन की एक कंपनी में महिला कर्मचारियों को बॉस से अनुमति लिए बिना प्रेग्नेंट होने पर अबॉर्शन कराने या सजा भुगतने के लिए कहा गया है। शिजाजुआंग के एक बैंक में सभी महिला कर्मचारियों को हर साल जनवरी महीने में कंसीव करने के लिए आवेदन पत्र भरना पड़ता है।

बॉस से बिना पूछे प्रेग्नेंट होना पड़ा महंगा, जानें बच्चा और सजा में से किसे चुना
X

चीन की एक कंपनी में महिला कर्मचारियों को बॉस से अनुमति लिए बिना प्रेग्नेंट होने पर अबॉर्शन कराने या सजा भुगतने के लिए कहा गया है। शिजाजुआंग के एक बैंक में सभी महिला कर्मचारियों को हर साल जनवरी महीने में कंसीव करने के लिए आवेदन पत्र भरना पड़ता है।

रिपोर्ट के मुताबिक, कोई भी महिला कर्मचारी अगर बिना अनुमति लिए प्रेग्नेंट होती है तो उसे मेडिकल अबॉर्शन या पेनाल्टी में किसी एक को चुनना होगा। बैंक की प्रेग्नेंसी पॉलिसी तब दुनिया के सामने आई जब एक महिला कर्मचारी ने शिजियाजुआंग एंप्लायी सर्विस सेंटर से मदद मांगी।

पहचान गोपनीय रखने की शर्त पर महिला ने बताया, वह अचानक प्रेग्नेंट हो गई थी और जाहिर तौर पर उसने अनुमति नहीं ली थी। उससे बच्चे और सजा में से एक विकल्प चुनने के लिए कहा गया।

महिला ने दावा किया कि कई महिला कर्मचारियों को प्रेग्नेंट होने पर सजा दी जा चुकी है क्योंकि अधिकतर महिलाएं अपने बच्चे का अबॉर्शन करने से इनकार कर देती हैं।

रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया है कि सजा के तौर पर महिलाओं की सैलरी कटौती से लेकर डिमोशन शामिल हो सकता है। यह खबर ऐसे समय में सामने आई है,

जब चीन की सरकार आबादी बढ़ाने के लिए कपल्स को प्रोत्साहित करने के लिए कई कदम उठा रही है। एंप्लायी सर्विस सेंटर ने बैंक के डायरेक्टरों के साथ बैठक कर इस नीति को तुरंत खत्म करने के लिए कहा है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story