Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

17 साल से पेट के अंदर कैंची लेकर घूमती रही महिला, डॉक्टर्स ने ऐसे किया हैरतअंगेज ऑपरेशन

तखतपुर निवासी महिला 17 साल से पेट के अंदर कैंची लेकर घूमती रही। 17 साल बाद उसके पेट में अधिक दर्द होने पर परिजन उसे बिलासपुर के एक निजी अस्पताल में जांच कराने के लिए लेकर गएं।

17 साल से पेट के अंदर कैंची लेकर घूमती रही महिला, डॉक्टर्स ने ऐसे किया हैरतअंगेज ऑपरेशन
X

तखतपुर निवासी महिला 17 साल से पेट के अंदर कैंची लेकर घूमती रही। 17 साल बाद उसके पेट में अधिक दर्द होने पर परिजन उसे बिलासपुर के एक निजी अस्पताल में जांच कराने के लिए लेकर गएं।

इस दौरान उसके पेट का एक्सरे व सोनोग्राफी की गई। सोनोग्राफी व एक्सरे की रिपोर्ट देख डॉक्टर भी हड़बड़ा गएं। महिला के पेट के अंदर बच्चादानी में सीजर फंसा हुआ था। शुक्रवार को डॉक्टर ने महिला का ऑपरेशन करके सीजर बाहर निकाली है।

तखतपुर निवासी रीना सिन्हा पति संजय कुमार सिन्हा का डिलवरी के दौरान, वर्ष 2002 में पटना के शांती राय अस्पताल में ऑपरेशन कर प्रसव कराया गया था वर्ष 2002 के बाद लगभग 5 साल तक महिला स्वस्थ रही।

इसे भी पढ़ें:हैरतअंगेज! गर्लफ्रेंड ने काटा अपने ही ब्वॉयफ्रेंड का कान, वजह जानकर हो जाएंगे हैरान

इसके बाद महिला के पेट में हल्का दर्द शुरु होने लगा। दर्द से परेशान महिला ने डॉक्टर से दर्द की दवा लेकर खाती रही। इससे दर्द कम हो जाता था। वहीं लगातार दर्द होने के कारण आसपास के लोग अंधविश्वास के कारण झाड़ फूंक करने की सलाह महिला को दे रहे थे। इसके बाद भी पेट का दर्द कम नहीं हो रहा था।

एक सप्ताह पहले असहनीय दर्द होने पर उसने तखतपुर में डॉक्टर से जांच कराई लेकिन डॉक्टर दर्द को नहीं समझ पा रहे थे। जिसके बाद महिला के परिजन उसे लेकर शहर के लाइफ केयर हास्पिटल में इलाज कराने के लिए पहुंचे और गुरुवार को महिला का पहले एक्सरे किया गया।

इसके बाद सोनोग्राफी की गई। एक्सरे व सोनोग्राफी रिपोर्ट देखकर इलाज कर रहे डॉक्टर भी चौंक गए। महिला के पेट में एक बड़ा सीजर नजर आ रहा था। इसकी जानकारी डॉक्टर ने महिला के पति को दी।

इसे भी पढ़ें:आर्मी जवान का हादसे में उखड़ा कान, डॉक्टरों ने हैरतअंगेज तरीके से लगाया दूसरा कान

इस संबंध में डॉक्टर ने महिला व उसके परिजन से पिछले ऑपरेशन की जानकारी एकत्र की। इस पर रीना सिन्हा ने बताया कि वर्ष 2002 में पटना के शांती राय हॉस्पिटल में डिलवरी के दौरान आपरेशन किया गया था।

डिलवरी ऑपरेशन के बाद 17 साल से महिला पेट के अंदर कैंची लेकर घूमती रही पर उसे पता नहीं चला। ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर ने बताया कि पेट में जगह होने के कारण कैंची से शरीर का नुकसान नहीं हुआ है।

कैंची जब किसी नस में टकराई तब महिला को दर्द अधिक हुआ है। डॉक्टर ने कहा कि उनके सामने यह पहला मामला सामने आया है। महिला 17 साल से पेट के अंदर कैंची लेकर सभी काम करती रही पर उसे दर्द नहीं हुआ।

इसे भी पढ़ें: 3 साल से पेट में पल रहा था कनखजूरा, ऐसे निकाला बाहर- जानें कैसे हुआ ये हैरतअंगेज कारनामा

लाइफ केयर हॉस्पिटल के संचालक डा. शिरिष मिश्रा ने बताया कि उनके हॉस्पिटल का यह पहला मामला है। इस संबंध में अधिक जानकारी नहीं हैं। 17 साल से पेट में कैंची रहने का मामला सीएमएचओ से बताया जाएगा। इस संबंध में कार्रवाई भी उनके द्वारा की जाएगी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story