Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

देखिए, 17 नंगे बदन और 9 घंटे तक की गई पेंटिंग के बाद बना ये अदभुद मंदिर

आपने कई लोगों के मुहं से ये कहते हुए सुना होगा कि शरीर एक मंदिर होता है।

देखिए, 17 नंगे बदन और 9 घंटे तक की गई पेंटिंग के बाद बना ये अदभुद मंदिर
X
नई दिल्ली. आपने कई लोगों के मुहं से ये कहते हुए सुना होगा कि शरीर एक मंदिर होता है। शायद आप आज तक इसे एक कहावत के रुप में सुनते आए होगें, लेकिन बॉडी पेंट आर्टिस्ट तरिना मैरी ने अपनी कला के जरिए इसे एक हकीकत में बदल दिया। तरिना मैरी ने लगभग नौ घंटे तक 17 नग्न शरीरों को पेंट कर एक ऐसे सांचे में ढाल दिया कि सच ये मदिंर जैसा दिखने लगा। इसे बनाने के पीछे का कारण ये बताना कि शरीर एक मंदिर होता है।
तरिना का ये संगठन नेपाल की युवा महिलाओं की साहयता के लिए चैरटी इकठ्ठा करने के लिए करता है। जिससे वे उन दबी-कुचली महिलाओं की कुछ आर्थिक मदद कर सकें। शरीर को रंगने की परंपरा प्रचीन काल की है। जब लोग गुफाओं में रहते थे। और उन पर पेटिंग करते थे। 34 वर्षीय तरिना का कहना कि 'मैं इस कला से 'मानव का मानव से अंतरंग संबंध' को बताना चाहती हैं।
तरिना ने बॉडी पेंट करने की शुरुआत साल 2006 से की थी। लेकिन सला 2011 से इस पूरे तरीके से अपना लिया। उनके इस शरीर मदिंर का प्रर्दशन मार्च में अमेरिका के सेन जोंस में की थी। इसका प्रर्दशन केवल बीस मिनट तक किया गया। इस कैनवास में कई मॉडल नंगे से डरते है। और कुछ लोग अपने आप को दूसरे के सामने अपने आपको पहली बार नग्न होने में असहज महसूस करते हैं।
नीचे की स्‍लाइड्स में देखिए, इस कला की अदभुद तस्वीरें-
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story