1992 में वर्ल्ड ब्रेस्टफीडिंग वीक की शुरुआत हुई थी।
नवजात शिशुओं के लिए मां का दूध सबसे अच्छा आहार है।
दुनिया के 60 प्रतिशत बच्चे ब्रेस्टफीडिंग से वंचित रह जाते हैं।
मां के दूध में एंटीबॉडी होती हैं, जो बच्चों को रोगों से बचाती है।
स्तनपान करने वाले बच्चों में अस्थमा या एलर्जी होने का खतरा कम होता है।
माताओं को 6 महीने तक बच्चे को स्तनपान कराने की सलाह दी जाती है।
इस खबर को विस्तार से पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें