Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आखिर क्यों युवक ने खुद को कर दिया मरा हुआ घोषित

बीमा कंपनी से 20 लाख रुपए का क्लेम पाने के लिए लालबर्रा थाना के कंजई घाटी क्षेत्र में शिक्षक जितेंद्र ठाकरे ने खुद की मौत की कहानी गढ़ी। ठाकरे ने सोची-समझी रणनीति के तहत पहले तो अपने जैसी कद काठी का एक मजदूर तलाशा।

बीमा कंपनी से 20 लाख रुपए का क्लेम पाने के लिए लालबर्रा थाना के कंजई घाटी क्षेत्र में शिक्षक जितेंद्र ठाकरे ने खुद की मौत की कहानी गढ़ी। ठाकरे ने सोची-समझी रणनीति के तहत पहले तो अपने जैसी कद काठी का एक मजदूर तलाशा। वह उसे अपने टाटा मैजिक वाहन में बैठाकर कंजई घाटी ले गया। यहां उसने पहले मजदूर की हत्या कर दी और फिर उसे टाटा मैजिक वाहन पर रखकर आग लगा दी। उसका इरादा मौत के राज को दफन करने का था, लेकिन मोबाइल लोकेशन के जरिए वह पकड़ा गया।

Share it
Top