Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

रिजर्व बैंक ने तीसरी बार रेपो रेट में की कटौती

भारतीय रिजर्व बैंक गुरूवार को मौद्रिक नीति की समीक्षा बैठक की जिसमें कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। आरबीआई मौद्रिक नीति की समीक्षा में आरबीआई (RBI) ने रेपो रेट में 25 आधार अंकों की कटौती की। जो अब 6% से 5.75% हो गई है। रेपो रेट और बैंक दर को क्रमशः 5.50 और 6.0 प्रतिशत पर समायोजित किया गया है। रेपो रेट व बैंक रेट में हुई कटौती से सभी तरह के लोन के ब्याज दर सस्ते होंगे लेकिय यह बात बैंकों पर निर्भर करता है कि वे रेपो रेट की कटौती का कितना फायदा अपने ग्राहकों को दे पाते हैं। रेपो रेट उस दर को कहा जाता है जिस दर पर आरबीआई कमर्शियल बैंको को कर्ज देती है। वहीं जीडीपी वृद्धि के अनुमान को 7 से 7.2 फीसदी की ग्रोथ का प्रोजेक्ट रखा गया है।

भारतीय रिजर्व बैंक गुरूवार को मौद्रिक नीति की समीक्षा बैठक की जिसमें कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। आरबीआई मौद्रिक नीति की समीक्षा में आरबीआई (RBI) ने रेपो रेट में 25 आधार अंकों की कटौती की। जो अब 6% से 5.75% हो गई है। रेपो रेट और बैंक दर को क्रमशः 5.50 और 6.0 प्रतिशत पर समायोजित किया गया है।

रेपो रेट व बैंक रेट में हुई कटौती से सभी तरह के लोन के ब्याज दर सस्ते होंगे लेकिय यह बात बैंकों पर निर्भर करता है कि वे रेपो रेट की कटौती का कितना फायदा अपने ग्राहकों को दे पाते हैं। रेपो रेट उस दर को कहा जाता है जिस दर पर आरबीआई कमर्शियल बैंको को कर्ज देती है। वहीं जीडीपी वृद्धि के अनुमान को 7 से 7.2 फीसदी की ग्रोथ का प्रोजेक्ट रखा गया है।

Chetan Sahu

Chetan Sahu

Sub Editor


Next Story
Top