Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बेटे के अंतिम सफर पर मां ने उसका पसंदीदा लोकगीत गाकर दी विदाई

अपने संगीतकार जवान बेटे की अर्थी के सामने किसी माँ का गायन सुनना, भीतर तक रूला देने वाली घटना है. राजनांदगाँव में सुप्रसिद्ध अभिनेत्री और लोक गायिका पूनम तिवारी ने अपने बेटे सूरज की अर्थी के सामने अपने नाटक का सुप्रसिद्ध गाना "एकर का भरोसा चोला माटी के राम" गाया.

अपने संगीतकार जवान बेटे की अर्थी के सामने किसी माँ का गायन सुनना, भीतर तक रूला देने वाली घटना है. राजनांदगाँव में सुप्रसिद्ध अभिनेत्री और लोक गायिका पूनम तिवारी ने अपने बेटे सूरज की अर्थी के सामने अपने नाटक का सुप्रसिद्ध गाना "एकर का भरोसा चोला माटी के राम" गाया.

Chetan Sahu

Chetan Sahu

Sub Editor


Next Story
Share it
Top