Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Video: अमेरिकी स्कूल में नस्लभेद का शिकार हुआ भारतीय छात्र, गला दबाने और घूंसे मारने का वीडियो वायरल

दरअसल वीडियो वायरल होने के बाद स्कूल मैनेजमेंट ने भारतीय मूल के छात्र को 3 दिन के लिए सस्पेंड कर दिया जबकि अमेरिकी छात्र को महज 1 दिन का सस्पेंशन लेटर थमाया।

Video: अमेरिकी स्कूल में नस्लभेद का शिकार हुआ भारतीय छात्र, गला दबाने और घूंसे मारने का वीडियो वायरल
X

अमेरिका (America) से एक वीडियो इन दिनों काफी वायरल (Video Viral) हो रहा है। दरअसल यहां एक स्कूल में भारतीय अमेरिकी छात्र (Indo-American Student) के साथ भेदभाव का मामला सामने आया है। वायरल हो रहे वीडियो में एक अमेरिकी छात्र भारतीय मूल के छात्र पर हमला करता दिखाई दे रहा है। वहीं करीब 4 मिनट तक वह उसका गला दबाता दिखा, साथ ही स्कूल मैनेजमेंट की ओर से जब इस पर कार्रवाई की गई तो वो भी सवालों के घेरे में था।

दरअसल वीडियो वायरल होने के बाद स्कूल मैनेजमेंट ने भारतीय मूल के छात्र को 3 दिन के लिए सस्पेंड कर दिया जबकि अमेरिकी छात्र को महज 1 दिन का सस्पेंशन लेटर थमाया।

वायरल वीडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि, टेक्सास (Texas) के कोपेल मिडिल स्कूल (Coppell Independent School District) का एक अमेरिकी छात्र कुर्सी पर बैठे भारतीय मूल के छात्र के पास खड़ा है और वो उसे परेशान कर रहा है। अमेरिकी छात्र कुछ ही देर बाद उसका गला दबा देता है, इस दौरान वो काफी देर तक गला दबाए रखता है, इसके बाद दूसरे छात्रों के कहने पर आरोपी छात्र भारतीय मूल के छात्र की गर्दन छोड़ता है।

पहले तो दोनों के बीच कुछ बातचीत होती है, फिर आरोपी छात्र उसका गला दबा देता है और उसे खींचने लगता है। इस दौरान भारतीय छात्र खुद को बचाने की कोशिश करता है। लेकिन अमेरिकी छात्र उसे कुर्सी से नींचे खींच लेता है। वह उसे घूंसे भी मारने की कोशिश करता है, बताया जा रहा है कि ये घटना बीते 11 मई की है।

वहीं इस पूरी घटना का वीडियो क्लास में मौजूद एक छात्र बनाता है और उसे सोशल मीडिया पर अपलोड कर देता है। देखते ही देखते ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो जाता है, स्कूल मैनेजमेंट भी कार्रवाई में भारतीय मूल के साथ भेदभाव करता है। इसलिए स्कूल मैनेजमेंट की कार्रवाई के लिए लोग खूब निंदा कर रहे हैं। नॉर्थ अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ इंडियन स्टूडेंट द्वारा इस हमले की कड़ी निंदा की गई है, साथ ही स्कूल मैनेजमेंट की कार्रवाई को गलत बताया गया है।

और पढ़ें
Next Story