Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आयुष्मान योजना को लेकर बड़ा हेरफेर, डिस्चार्ज मरीजों को दोबारा भर्ती कर लूटा सरकारी खजाना

अस्पताल ने एक मरीज को तीन अप्रैल 2019 को भर्ती करके उसकी सर्जरी की और अगले दिन उसे डिस्चार्ज कर दिया गया। पर अस्पताल ने आयुष्मान योजना के की सूची के अनुसार उसे 12 अप्रैल को भर्ती किया और 20 अप्रैल को डिस्चार्ज किया गया।

आयुष्मान योजना को लेकर बड़ा हेरफेर, डिस्चार्ज मरीजों को दोबारा भर्ती कर लूटा सरकारी खजाना

उत्तराखंड में अटल आयुष्मान योजना के तहत घोटालो की खबर खूब बाहर आ रही है। निजी अस्पतालों ने तो जमकर लूट मचाई है। काशीपुर में देवकी नंदन अस्पताल में धांधली के पांच मामले सामने आए हैं।

अस्पताल ने एक मरीज को तीन अप्रैल 2019 को भर्ती करके उसकी सर्जरी की और अगले दिन उसे डिस्चार्ज कर दिया गया। पर अस्पताल ने आयुष्मान योजना के की सूची के अनुसार उसे 12 अप्रैल को भर्ती किया और 20 अप्रैल को डिस्चार्ज किया गया।

देवकी नंदन अस्पताल ने आयुष्मान योजना के तहत सूचीबद्ध होने के बाद 16 मई 2019 तक कुल 143 मरीजों का इलाज किया। जांच टीम को पहली बार में ही पांच फर्जी मामले मिलने के बाद वह अब सारे मामले की जांच कर रही है।

बताया जा रहा कि 61 मामलों में मरीज का इलाज अनुमति के पहले किया गया। अस्पताल द्वारा बिलो के फर्जीवाड़े मामले में उसे कारण बताओ नोटिस जारी किया गया था पर उसने अभी तक जवाब नही दिया।

जवाब न देने के कारण अटल आयुष्मान के निदेशक डॉ. अभिषेक त्रिपाठी ने अस्पताल का अनुबंध निरस्त करने का आदेश जारी किया है। साथ ही अस्पताल से 3.24 लाख रुपए वसूले जाने का भी आदेश दिया है। इसके लिए अस्पताल को 15 दिन का समय दिया गया है।

Next Story
Top