Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

उत्तराखंडः सीएम रावत को अपशब्द कहने वाली टीचर हुईं सस्पेंड, स्कूली शिक्षा सचिव ने दिए ये तर्क

उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा की सचिव भूपिंदर कौर ओलख ने तर्क दिया कि उन्हें इसलिए निलंबित कर दिया गया है क्योंकि उसने एक शिक्षक के रुप में शिष्टाचार के नियमों का उल्लंघन किया है।

उत्तराखंडः सीएम रावत को अपशब्द कहने वाली टीचर हुईं सस्पेंड, स्कूली शिक्षा सचिव ने दिए ये तर्क

जनता दरबार में महिला शिक्षिका द्वारा अपशब्दों के इस्तेमाल को लेकर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने शिक्षिका को संस्पेंड कर दिया है।

वहीं उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा की सचिव भूपिंदर कौर ओलख ने तर्क दिया कि उन्हें इसलिए निलंबित कर दिया गया है क्योंकि उसने एक शिक्षक के रुप में शिष्टाचार के नियमों का उल्लंघन किया है। इसकी जांच की जाएगी। हम उन्हें भी सुनेंगे और उसके बाद ही निर्णय लिया जाएगा।

ये भी पढ़ेंः सरकार की नाकामियां छिपाने के लिए जारी किया गया सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियोः मायावती

ओलख ने प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि उनका केवल जिले के भीतर ही स्थानांतरण किया जा सकता है। उनकी मांग है कि अंतर जिला स्थानांतरण के तहत उनका देहरादून में स्थानांतरण (Transfer) किया जाए, लेकिन इस समय अधिनियम में यह अनुमति नहीं है।

उन्होने बताया कि दूरदराज के इलाकों में 58 से ज्यादा लोग उससे अधिक अवधि के लिए तैनात हैं। उनका नंबर 59 वां है। स्थानांतरण केवल बारी-बारी से किया जाता है।

बता दें कि मुख्यमंत्री आवास पर गुरुवार को जनता दरबार लगाया गया था। इस दौरान एक शिक्षिका ने प्रदर्शन करते हुए जबर्दस्त हंगामा किया। शिक्षिका अपने तबादले की मांग कर रही थीं। उनका नाम उत्तरा बहुगुणा है। इस बीच जब उनकी मांग का समाधान नहीं निकला तो उन्होंने दरबार में ही हंगामा खड़ा दिया।

ये भी पढ़ेंः गोवाः इंसानियत फिर हुई शर्मसार, 48 वर्षीय कैब ड्राइवर ने 20 वर्षीय युवती से किया रेप

अपनी फरियाद सुनाते हुए महिला ने अपना आपा खोया और मुख्यमंत्री को अपशब्द कह डाले। लेकिन मुख्यमंत्री रावत भी महिला पर भड़क उठे और उनको संस्पेंड करने और हिरासत में लेने का आदेश सुना दिया।

Next Story
Top